अफगानिस्तान की राजधानी काबुल में हुई इतने लोगो की मृत्यु, जाने कारण

अफगानिस्तान की राजधानी काबुल में हुई इतने लोगो की मृत्यु, जाने कारण

अफगानिस्तान की राजधानी काबुल में सिखों के धार्मिक स्थल पर बुधवार को एक आतंकवादी हमला हुआ है. मीडिया रिपोर्ट के अनुसार गुरुद्वारे में प्रार्थना के लिए एकत्र हुए करीब 100 लोगों को बंधक बना लिया है. 

बताया जा रहा है कि उस वक्त गुरुद्वारे में सिख समुदाय के लोग प्रार्थना के लिए एकत्र हुए थे. आंतरिक मामलों के मंत्रालय ने हमले की पुष्टि कर बोला कि अज्ञात बंदूकधारियों व आत्मघाती हमलावरों ने इस हमले को अंजाम दिया है. बताते चलें कि अफगानिस्तान में सिख समुदाय मुख्य रूप से जलालाबाद व काबुल में रहते हैं.

सुरक्षाबलों ने इलाके को घेर लिया

सुरक्षाबलों से एनकाउंटर के दौरान करीब चार लोग मृत्यु हो गई हैं. आंतरिक मंत्रालय के प्रवक्ता तारिक आरियन ने मीडिया वालों को बताया कि हमले के तुरंत बाद सुरक्षाबलों ने इलाके को घेर लिया. हालांकि हमले के पीछे कौन सा आतंकवादी संगठन है, इसकी जानकारी सामने नहीं आई है.

अल्पसंख्यक सिखों पर यह पहला हमला नहीं है. इससे पहले भी अफगानिस्तान में उनपर हमले होते आए हैं. इस कारण कई बार उन्हें विवशता में हिंदुस्तान की शरण लेनी पड़ी. 2018 में भी जलालाबाद में आत्मघाती हमला हुआ था जिसमें 13 सिख मारे गए थे. हमले की जिम्मेदारी इस्लामिक स्टेट ने ली थी.

हमले से सिख समुदाय इतना भय गया था कि उन्होंने देश छोड़ने का निर्णय कर लिया था. अफगानिस्तान में 300 से भी कम सिख परिवार रहता है जिनके पास दो ही गुरुद्वारा है. एक जलालाबाद व एक काबुल में.