इंदौर में खाना पहुँचाने वाले लड़के की हत्या का मामला

इंदौर में खाना पहुँचाने वाले लड़के की हत्या का मामला

इंदौर/ब्यूरो: फूड डिलीवरी बॉय की मर्डर के मुद्दे में पुलिस 60 से अधिक सीसीटीवी कैमरे खंगाल चुकी है. पुलिस ने सोमवर को उस चिकित्सक को भी बुलाया, जिसने औनलाइन खाने का आर्डर बुक कराया था. ब्यावरा के विधायक भी मृतक के परिजनों के साथ थाने पहुंचे. उन्होंने पुलिस द्वारा की जा रही जांच को लेकर बात की. पुलिस के ऑफिसरों ने लव कुश चौराहे से रॉंग साइड के बेरिकेट्स हटवाकर वह रास्ता भी खुलवाया. जिसे ट्रैफिक पुलिस ने बंद कर दिया था. दरअसल इसी बंद रास्ते के चलते डिलीवरी बॉय को डेढ़ किलोमीटर घूमकर हॉस्पिटल जाना पड़ा था. जहां उस पर हमला हो गया था.थाना प्रभारी राजेन्द्र सोनी के अनुसार सुनील (24 साल) पुत्र अमृतलाल वर्मा को गुरुवार रात अज्ञात लुटेरों ने चाकू मार दिया था. शुक्रवार सुबह सुनील ने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया. पुलिस ने इस मुद्दे में कई लोगों से पूछताछ की. लेकिन अभी तक मुद्दे में पुलिस को कोई सुराग नहीं लगा है.

पुलिस ने सोमवार को अरबिंदो हॉस्पिटल की चिकित्सक महिला को भी थाने बुलाया था. चिकित्सक महिला ने पूछताछ में बताया कि उसने औनलाइन खाना ऑर्डर किया था. चिकित्सक के बयान के बाद पुलिस ने वृंदावन होटल और एमआर 10 के रास्ते पर लगे सीसीटीवी कैमरे भी देखे. इन सीसीटीवी फुटेज में सुनील पार्सल डिलीवरी के लिए जाते हुए दिखाई दे रहा है. सुनील टोल के आगे से आईडीए की खाली पड़ी कॉलोनी में टर्न हुआ. यहीं उस पर हमला किया गया. पुलिस के अनुसार सरकारी कैमरे कई स्थान पर बंद पड़े हैं. अभी तक पुलिस मोबाइल की लोकेशन से ही हत्याकांड में आगे बढ़ रही है. करीब 60 सीसीटीवी कैमरे के फुटेज अभी तक देखे गए हैं. जिसमें तीन कैमरों में सुनील पुलिस को दिखाई दिया है. 
इधर लवकुश चौराहे से अरबिंदो हॉस्पिटल की तरफ जाने वाले रास्ते पर ट्रैफिक पुलिस ने बेरिकेट्स लगा दिए थे. जिसके कारण सुनील को खेत से जाना पड़ा था. पुलिस ने सोमवार को उसे भी खुलवा दिया.सुनील ब्यावरा का रहने वाला था. कुछ माह पहले ही वह जॉब की तलाश में इंदौर आया था. सोमवार को विधायक रामचंद्र रागी सुनील के परिवार के साथ इंदौर पहुंचे. उन्होंने टीआई राजेन्द्र सोनी से बात की और मुद्दे में जल्द आरोपियों को पकड़ने की बात कही. पुलिस ने अभी तक की कार्रवाई को लेकर विधायक को जानकारी दी. ऑफिसरों के अनुसार इस हत्याकांड को सुलझाने के लिये कई टीमें भिन्न भिन्न बिंदुओं पर जांच कर रही हैं.