यहां मृत्यु होने पर डांस के लिए बुलाई जाती है स्पेशल आइटम गर्ल्स, करती है पोल डांस

यहां मृत्यु होने पर डांस के लिए बुलाई जाती है स्पेशल आइटम गर्ल्स, करती है पोल डांस

अक्सर आपने देखा होगा इंसान के मरने पर मातम का माहौल होता है सब गम में डूबे होते है लेकिन जिसका जन्म हुआ है उसका मरना भी निश्चित है। आज हम आपको ऐसे देश के बारे में बताने जा रहे हैं जहां पर शोक सभा में कॉल गर्ल्स को बुलाया जाता है। मातम की खुशियां मनाई जाती है। 

बुलाई जाती है स्पेशल आइटम गर्ल्स

चीन में लोग मरने पर कॉल गर्ल्स को बुलाते हैं जो शोक सभा में कॉफिन के आस-पास घूमकर डांस करती है। चीन के लोगों का मानना है कि यहां अगर कॉल गर्ल्स को बुलाया जाता है तो लोगों की संख्या अधिक होती है। इससे ऐसा माना जाता है जितनी ज्यादा भीड़ होती है मृतक की आत्मा को शांति मिलती हैं।


ऐसे मिलती है आत्मा को शांति:

भीड़ तो इकट्ठा हो जाती है ले​किन बुर्जुग और बच्चे मौजूद नहीं होते हैं। ऐसा इसलिए वह एडल्ट कंटेंट होता है। इतना ही नहीं कॉल गर्ल्स जीप के ऊपर खड़ें होकर परफॉर्म करती है। चारों और खुशियां मनाई जाती है। 


OMG! इस प्रदेश में कुत्तों से अधिक खूंखार बिल्लियां, अभी तक इतने लोग हुए शिकार

OMG! इस प्रदेश में कुत्तों से अधिक खूंखार बिल्लियां, अभी तक इतने लोग हुए शिकार

तिरुवनंतपुरम: केरल में लोगों को कुत्तों से अधिक डर बिल्लियों का है और प्रदेश में पिछले कुछ सालों में बिल्लियों के काटने के मुद्दे कुत्तों के काटने की तुलना में कहीं अधिक सामने आए हैं इस वर्ष केवल जनवरी माह में ही बिल्लियों के काटने के 28,186 मुद्दे सामने आए जबकि कुत्तों के काटने के 20,875 मुद्दे थे

राज्य के स्वास्थ्य विभाग ने हाल ही में एक आरटीआई (सूचना का अधिकार) के उत्तर में यह जानकारी दी

राज्य स्वास्थ्य निदेशालय के अनुसार, पिछले कुछ सालों से बिल्लियों के काटने का उपचार कराने वालों की संख्या कुत्तों के काटने का उपचार कराने वालों से अधिक है

आंकड़ों के अनुसार, इस वर्ष केवल जनवरी में बिल्लियों के काटने के 28,186 मुद्दे सामने आए जबकि कुत्तों के काटने के 20,875 मुद्दे थे प्रदेश के पशु संगठन, ‘एनिमल लीगल फोर्स’ द्वारा दाखिल आरटीआई के उत्तर में यह आंकड़े दिए गए इसमें 2013 और 2021 के बीच कुत्तों और बिल्लियों द्वारा काटने के आंकड़ों के साथ ‘एंटी-रेबीज’ टीके और सीरम पर खर्च की गई राशि की भी जानकारी दी गई है

आंकड़ों के अनुसार, 2016 से बिल्लियों के काटने के मुद्दे में वृद्धि हुई है 2016 में बिल्लियों से काटने का 1,60,534 इतने लोगों ने उपचार कराया जबकि कुत्तों के काटने के 1,35,217 मुद्दे सामने आए 2017 में बिल्लियों के काटने के 1,60,785 मामले, 2018 में 1,75,368 और 2019 और 2020 में यह बढ़कर क्रमश: 2,04,625 और 2,16,551 हो गए दक्षिणी प्रदेश में 2014 से लेकर 2020 तक बिल्लियों के काटने के मामलों में 128 फीसदी वृद्धि हुई

सरकारी आंकड़ों के अनुसार, 2017 में कुत्तों के काटने के 1,35,749, साल 2018 में 1,48,365, साल 2019 में 1,61,050 और साल 2020 में 1,60,483 मुद्दे सामने आए रेबीज से पिछले वर्ष पांच लोगों की मृत्यु हुई थी


विराट-अनुष्का के रास्ते पर बढ़े केएल राहुल और अथिया शेट्टी       पासपोर्ट रिन्यू न होने को लेकर महाराष्ट्र सरकार पर फूटा कंगना रनोट का गुस्सा       पासपोर्ट विवाद के बीच कंगना रनोट को आई फिल्म की याद, कहा...       Govinda ने पत्नी सुनीता आहूजा का खास अंदाज में मनाया 50वां जन्मदिन       Sonu Sood की बढ़ी मुश्किलें, कोरोना की दवाई को लेकर मुंबई उच्च न्यायालय ने दिए जांच के आदेश       Akshay Kumar और ट्विंकल खन्ना की शादी की 20 वर्ष बाद तस्वीरें हुईं लीक       Rakhi Sawant ने लगवाई कोरोना वैक्सीन की पहली डोजी       बेहतरीन एक्टर के साथ कामयाब बिज़नेसमैन, इतने करोड़ की संपत्ति के मालिक़ हैं डिस्को डांसर       म्यांमार के काया क्षेत्र में युद्ध विराम, संयुक्त राष्ट्र ने किया हस्तक्षेप, करीब एक लाख लोगों को पहुंचा था नुकसान       ट्रान्स अटलांटिक संबंधों के नवीनीकरण में यूरोपीय संघ के व्यापार युद्ध को समाप्त करने की हुई कोशिश       दुनियाभर में मशहूर फर्नीचर ब्रांड पर कोर्ट ने लगाया जुर्माना       अमेरिका व ईयू के बीच सालों पुराना व्यापारिक विवाद खत्म, पुतिन से मुलाकात से पहले बाइडन का पक्ष मजबूत!       मध्य नेपाल में बाढ़ के कहर से एक की मौत, कई लोगों के लापता होने की आशंका       चीन के 28 लड़ाकू विमानों ने फिर ताइवान के एयरस्पेस में भरी उड़ान       ऑस्ट्रेलिया के मेलबर्न में कोरोना वायरस के प्रकोप के बावजूद लोगों को शहर छोड़ने की मिली अनुमति       जरायल ने गाजा पर किए हवाई हमले, सेना ने पुष्टि कर कहा...       कैलिफोर्निया में वैक्सीन जैकपॉट, जानें दस विजेताओं को मिलेगी कितनी धनराशि       नासा के रोवर परसिवरेंस ने मार्स पर देखी धरती पर मौजूद वॉल्‍केनिक रॉक जैसी चट्टान       दस वर्ष बाद पहली बार आज मिलेंगे बाइडन और पुतिन, तनातनी के बीच जानें       भारतीय मूल की सरला विद्या बनीं अमेरिका में संघीय जज, बाइडन ने किया मनोनीत