डीजीसीए के सर्वे पर टिकी केदारनाथ हेली सेवा, Survey के बाद ही शुरू होगी यात्रियों की बुकिंग

डीजीसीए के सर्वे पर टिकी केदारनाथ हेली सेवा, Survey के बाद ही शुरू होगी यात्रियों की बुकिंग

उत्तराखंड में चारधाम यात्रा शुरू होने के साथ ही केदारनाथ में हेली सेवा को लेकर नजरें टिकी हैं। यह हेली सेवा डायरेक्टर जनरल सिविल एविशन कार्यालय के सर्वे के बाद ही शुरू होगी। बरसात के कारण अभी डीजीसीए की टीम केदारनाथ में सर्वे के लिए नहीं आ सकी है। यही कारण है कि एक अक्टूबर से हेली सेवा शुरू करने की तिथि तय करने के बावजूद यूकाडा ने इसकी बुकिंग शुरू नहीं की है।

प्रदेश में चारधाम यात्रा शुरू हो चुकी है। इस अवधि में बड़ी संख्या में यात्री केदारनाथ के दर्शन को आते हैं। केदारनाथ के लिए हेली सेवा के जरिये बड़ी संख्या में श्रद्धालु केदारनाथ धाम तक पहुंचते हैं। इस वर्ष यह हेली सेवा शुरू नहीं हो पाई है। इसका कारण यह कि अभी डीजीसीए ने हेलीपैड का निरीक्षण नहीं किया है। इसके बाद यह सेवा शुरू होगी। उत्तराखंड नागरिक उड्डयन प्राधिकरण ने केदारनाथ के लिए हेली सेवा शुरू करने की संभावित तिथि एक अक्टूबर रखी है।


हेली सेवा के जरिये आने वाले यात्रियों को भी दर्शन का मौका मिल सके, इसके लिए यूकाडा ने देवस्थानम बोर्ड से प्रतिदिन 200 यात्रियों का कोटा तय करने का अनुरोध किया है। सचिव नागरिक उड्डयन दिलीप जावलकर ने बताया कि हेली सेवा शुरू करने के लिए अभी डीजीसीए का सर्वे होना है। इसके बाद ही हेली सेवा शुरू होगी। एक अक्टूबर से पहले डीजीसीए से अनुमति मिलने की उम्मीद है। उन्होंने कहा कि डीजीसीए का सर्वे पूरा होने के बाद ही हेली सेवाओं के लिए बुकिंग शुरू की जाएगी।


सचिवालय की डिजिटल डायरेक्टरी लांच

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने मंगलवार को सचिवालय संघ और एनआइसी द्वारा विकसित सचिवालय डायरेक्टरी मोबाइल एप लांच किया। इस एप में सचिवालय के सभी अधिकारियों व कर्मचारियों के फोन नंबर हैं। मुख्यमंत्री ने इसे एक अच्छी पहल बताया। मंगलवार को सचिवालय में आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री ने कहा कि इस मोबाइल एप से कार्मिकों को काफी सहूलियत मिलेगी। बताया गया कि इस एप में सभी अधिकारियों के फोन नंबर, वर्तमान तैनाती स्थान, ईमेल व अन्य जानकारी आसानी से प्राप्त हो सकेगी। यहां तक कि इसके जरिये मेल भी की जा सकती है। 

इस दौरान सचिवालय संघ ने गोल्डन कार्ड और टोल प्लाजा में कर्मचारियों के सामने आ रही समस्याओं को मुख्यमंत्री के समक्ष रखा। मुख्यमंत्री ने संघ को इन समस्याओं के निस्तारण का आश्वासन दिया। इस दौरान सचिवालय संघ के अध्यक्ष दीपक जोशी, महासचिव विमल जोशी, उपाध्यक्ष सुनील लखेड़ा, बची सिंह बिष्ट, जगदंबा प्रसाद मैखुरी समेत अन्य सदस्य मौजूद थे।


महाराणा प्रताप स्पोर्ट्स कालेज में दाखिले का ट्रायल, रणजीत रावत की प्रेस व धरनों पर रहेगी नजर

महाराणा प्रताप स्पोर्ट्स कालेज में दाखिले का ट्रायल, रणजीत रावत की प्रेस व धरनों पर रहेगी नजर

महाराणा प्रताप स्पोर्ट्स कालेज देहरादून में प्रवेश पाने का आज (मंगलवार) मौका है। जिला खेल अधिकारी अख्तर अली ने बताया कि जिला स्पोर्ट्स स्टेडियम हल्द्वानी में सुबह 10 बजे से ट्रायल होंगे। हॉकी, क्रिकेट, एथलेटिक्स प्रतियोगिता के प्रतिभागियों को चयनित किया जाएगा।

कांग्रेस प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष की प्रेस वार्ता रामनगर में 

कांग्रेस के प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष रणजीत सिंह रावत आज रामनगर में प्रेस वार्ता करेंगे। दोपहर 11:30 बजे से होने वाली प्रेस वार्ता में आपदा पीडि़तों की मदद व अन्य राजनीतिक बिंदुओं पर चर्चा की जाएगी।  


मुख्य अभियंता कार्यालय में होगा धरना-प्रदर्शन

जल निगम के राजकीयकरण की मांग को लेकर आंदोलन की शुरूआत हो चुकी है। मंगलवार को कर्मचारी दूसरे दिन भी मुख्य अभियंता कार्यालय के बाहर धरना-प्रदर्शन करेंगे। कर्मचारियों ने ऐलान किया है कि 27 अक्टूबर तक मामले में फैसला नहीं लिया गया तो उग्र हड़ताल की जाएगी। कर्मचारियों का आरोप है कि समय पर वेतन नहीं देने के साथ-साथ पेंशन व अन्य सुविधाओं से उन्हें वंचित किया जा रहा है। राजकीयकरण की मांग से सरकार को फायदा ही होगा।


एसटीएच के उपनलकर्मियों का धरना आज भी जारी

समान कार्य समान वेतन व नियमितिकरण की मांग को लेकर एसटीएच के उपनलकर्मियों का धरना मंगलवार को भी जारी रहेगा। कर्मचारी 10 बजे बजे बुद्ध पार्क में बैठेंगे और सरकार के खिलाफ प्रदर्शन करेंगे। एसटीएच उपनलकर्मचारी संघ के अध्यक्ष पीएस बोरा ने कहा कि जब तक हमारी मांग पूरी नहीं होगी, आंदोलन जारी रहेगी। कहा कि उनके सब्र की परीक्षा ली जा रही है।


गुरु वंदन व छात्र अभिनंद कार्यक्रम

भारत विकास परिषद शाखा काठगोदाम का संस्कार कार्यक्रम गुरु वंदन-छात्र अभिनंद कार्यक्रम एमबी इंटर कालेज में आज सुबह डेढ़ बजे से होगा। यह जानकारी शाखा के प्रांतीय उपाध्यक्ष डा. विनय खुल्लर ने दी है।