औलाद नहीं हुई तो सास ने देवर और जेठ से कराया रेप

औलाद नहीं हुई तो सास ने देवर और जेठ से कराया रेप

यूपी के आगरा में एक स्त्री के साथ जो हुआ उसे सुनकर हर कोई दंग रह गया. स्त्री ने जब अपनी आपबीती पुलिस को सुनाई तो सुनकर वह भी दंग रह गई. मामला शर्मसार कर देने वाला था. यहां स्त्री ने अपने ही ससुरा वालों पर बलात्कार कराने वाले का आरोप लगाया था. बलात्कार किसी दूसरे आदमी ने नहीं बल्कि जेठ और दो देवरों ने किया था. स्त्री कम्पलेन लेकर जब एसएसपी के पास पहुंची तो पीड़िता की बात सुनकर एसएसपी भी दंग रह गए. एसएसपी ने तुरंत पुलिस को कार्रवाई करने के निर्देश दिए. 

मामला आगरा जिले के शमशाबाद थाना क्षेत्र का है. यहां की रहनी वाली एक गांव की स्त्री बचपन से अपनी मौसी के साथ रहती है, जो कि न्यू आगरा क्षेत्र में मकान है. छह वर्ष पहले स्त्री की विवाह शमशाबाद के रहने वाले एक पुरुष से हुई थी. स्त्री ने बताया कि कुछ दिन बाद मेरी बहन की विवाह मेरे ही देवर से हो गई. विवाह के एक वर्ष बाद मेरी बहन और देवर के एक बेटा पैदा हो गया, लेकिन उसकी कोख सूनी रह गई. स्त्री ने बताया कि बहन के औलाद होने के बाद उसके ससुराल वाले उसे ताने मारने लगे. सास से लेकर पति और सम्बन्धी भी उसे बांझ का ताना मरने लगे थे. स्त्री ने बताया कि कुछ दिन बाद मेरे सास-ससुर ने दूसरे से संबंध बनाने की बात कही. उनका बोलना था कि जेठ और दो देवरों से संबंध बनाओ.

महिला का आरोप है कि उसके बाद देवर और जेठ दोनों ही हर रोज उसके साथ बलात्कार करने लगे. यह सिलसिला एक वर्ष तक चलता रहा. इस बारे में जब पति से बोला तो उसने भी उसका साथ नहीं दिया. इस पर पति ने कहा, यदि किसी की सहायता से औलाद हो जाए तो हर्ज ही क्या है. स्त्री ने बताया कि अब ससुराल वालों का अत्याचार बढ़ने लगा तो उसने इसकी जानकारी अपने घर वालों को दी. इस पर उसके घर वालों ने ससुराल वालों को कहने के बजाए उल्टा उसे ही समझना प्रारम्भ कर दिया. स्त्री ने बताया कि 22 जून को वह किसी तरह से ससुराल से भाग आई और छिप कर रहने लगी. स्त्री ने एसएसपी को बताया कि वह अपनी मर्जी से ससुराल छोड़ आई है. अब ससुराल वाले मेरी मौसी को परेशान कर रहे हैं. एसपी ने पीड़िता क बात सुनकर पुलिस को कानूनी कार्रवाई के निर्देश दिए हैं.