किसान ट्रैक्टर रैली: भोपाल में कांग्रेस कार्यकर्ताओं पर चली लाठियां

किसान ट्रैक्टर रैली: भोपाल में कांग्रेस कार्यकर्ताओं पर चली लाठियां

लखनऊ: उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में शनिवार को कृषि कानूनों के खिलाफ किसान हल्लाबोल करने वाले हैं। आज 300 ट्रैक्टरों के साथ किसान राजभवन पहुंचेंगे और कृषि कानूनों को रद्द करने की मांग उठाएंगे। फिलहाल किसान सुल्तानपुर रोड पर गोसाईंगज के निकट कासिमपुर बिरहुआ गांव पहुंच गए हैं।

भोपाल में किसानों पर चली लाठियां
मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने शनिवार को किसानों के समर्थन में प्रोटेस्ट मार्च निकाला। रास्ते में पुलिस से भिडंत हो गयी, जिसमें पुलिस को किसानों को रोकने के किसानों को लाठी चार्ज करना पड़ा। वो राजभवन की तरफ जा रहे थे। लेकिन रास्ते में पुलिस के साथ भिड़ंत हो गई। जिसके बाद कार्यकर्ताओं को नियंत्रित करने के लिए पुलिस ने लाठीचार्ज किया।

पुलिस ने वाटर कैनन का भी प्रयोग करना पड़ा। ये सभी कार्यकर्ता जवाहर चौक से राजभवन के लिए पैदल मार्च पर निकले थे। जिसके बाद भीड़ को तितर-बितर करने के लिए पुलिस को यह कार्रवाई करनी पड़ी। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह के अलावा जयवर्धन सिंह और कुणाल चौधरी को हिरासत में लिया गया है।

यूपी के पीलीभीत के पूरनपुर तहसील से कई जत्थों में ट्रैक्टर ट्रॉली में सवार होकर सैकड़ों किसान रवाना हुए
कृषि कानूनों के विरोध में दिल्ली में चल रहे आंदोलन में 26 जनवरी को होने वाली ट्रैक्टर रैली में शामिल होने को लेकर यूपी के पीलीभीत के पूरनपुर तहसील से कई जत्थों में ट्रैक्टर ट्रॉली में सवार होकर सैकड़ों किसान रवाना हुए है।हालाकि पुलिस, पीएसी के साथ पहुंचे अफसरों ने बातचीत कर किसानों को मनाने का प्रयास भी किया, लेकिन किसान नहीं माने।किसानों का कहना है कि अधिक सख्या में पहुचकर हमे एकजुटता का परिचय देना है।हालाकि सुरक्षा इंतजाम के बीच किसानों को आगे रवाना कर दिया गया।

इसकी अगुवाई सिख संगठन के प्रदेश अध्यक्ष जसवीर सिंह विर्क ने की है।एक साथ 300 से अधिक किसानों के निकलने पर असम हाईवे पर जाम लग गया जिससे पुलिस ने खुलवाया।हालाकि किसानों के भारी संख्या में रैली में शामिल होने को जाने की भनक पर असम हाईवे पर पुलिस,पीएसी पहले ही तैनात हो गयी थी।साथ ही एसपी जयप्रकाश ने क्षेत्र का भ्रमण करने के बाद पूरनपुर कोतवाली में कैंप भी किया।

ट्रैक्टरों पर सवार होकर दिल्ली जाने को कई गांव के किसान तहसील क्षेत्र के अलग अलग जगहों पर एकत्र हुए और खुटार क्षेत्र से आने वाले किसानों के इंतजार कर रहे थे।इस बीच किसानों का नेतृत्व कर रहे कुछ नेताओं के साथ पुलिस और प्रशासनिक अफसरों ने वैठककर उन पर दबाब बनाने का प्रयास भी किया। मगर बाद में रुकने से मना कर जाने की चेतावनी दी गई।

सिख संगठन के प्रदेश अध्यक्ष जसवीर सिंह विर्क खुटार होते हुए असम हाईवे पर कई जगह रुके। किसानों से मिले और अपने साथ लेकर क्षेत्र से दिल्ली को ओर रवाना हो गए।हालाकि पहले से ही सिटी मजिस्ट्रेट, सीओ,पीएसी और पुलिस बल के साथ मौजूद थे। मगर किसानों को रोका नहीं गया और उन्हें शांतिपूर्ण तरीके से आगे निकाल दिया गया।

भाकियू का राजभवन मार्च: आज 300 टैक्टरों से पहुंचेगे किसान
मोदी सरकार के कृषि कानूनों को लेकर एक तरफ किसानों ने दिल्ली की सीमाओं को घेर रखा है, तो वहीं आज लखनऊ में भारतीय किसान यूनियन बड़ा मार्च निकालने की तैयारी में है। 300 ट्रैक्टरों के साथ किसान आज दोपहर तक राजभवन पहुँच जाएंगे। भारतीय किसान यूनियन तीन कृषि बिलों की वापसी, एमएसपी को कानूनी गारंटी देने समेत विभिन्न मांगों को लेकर राजभवन का घेराव करेगी।

लखनऊ के कासिमपुर बिरहुवा गाँव पहुच चुके किसान
भाकियू के मार्च को रोकने के लिए लखनऊ प्रशासन ने कई जगह बैरिकेडिंग की है। हालंकि इन सब के बावजूद बीती रात किसानों के करीब तीन सौ ट्रैक्टर सुल्तानपुर रोड पर कासिमपुर बिरहुआ गांव पहुंच गए हैं। यहीं से भाकियू कार्यकर्ता आज दोपहर को राजभवन के घेराव के लिए चलेंगे।

किसानों को रोकने में नाकाम रही पुलिस
भाकियू के मंडल अध्यक्ष हरिनाम सिंह वर्मा ने एलान किया है कि यूपी के सभी जिलों में किसान 23 जनवरी यानी आज लखनऊ में राजभवन का घेराव करेंगे और 26 जनवरी को राजधानी दिल्ली व जिलों में ट्रैक्टर परेड करेंगे। इस बाबत पुलिस और प्रशासन ने उन्हें लखनऊ आने से रोकने की कोशिश की। किसानों को नोटिस दिए गए लेकिन इन सब के बावजूद किसान रुकने वाले नहीं और सुल्तानपुर रोड तक पहुँच चुके हैं।

लखनऊ में किसान मार्च के चलते रूट डायवर्डन
वहीं भारतीय किसान से यूनियन के मार्च के चलते ज़िले की सीमा पर पुलिस मुस्तैद है। राजधानी लखनऊ में कई जगह डायवर्जन किया गया है। इसके तहत अहिमामऊ शहीद पथ मोड़ से सामान्य यातायात एचसीएल चौराहे की ओर नहीं जा सकेगा।

सीतापुर रोड से बड़े व भारी वाहन इंजीनियरिंग कॉलेज चौराहे, अयोध्या रोड की तरफ नहीं जा सकेंगे।

सीतापुर रोड से भिठौली तिराहे से टेढ़ी पुलिया चौराहा, पॉलिटेक्निक चौराहा नहीं जा सकेंगे।

बंदरियाबाग़ चौराहे से राजभवन, हज़रतगंज चौराहा, GPO और विधानसभा की ओर नहीं जा सकेंगे।

केकेसी तिराहे से चारबाग़, हुसैनगंज और विधानसभा की ओर डायवर्जन रहेगा।

हालांकि बदली व्यवस्था से एंबुलेंस ,फ़ायर सर्विस और शव वाहन को छूट दी गई है।

छूट के लिए यातायात कंट्रोल रूम के नंबर 0522-2481001, 7311190195, 9454405155 पर सूचना देनी होगी।


तम्बाकू पर चेतावनी: कानपुर में जागरूकता शिविर का आयोजन

तम्बाकू पर चेतावनी: कानपुर में जागरूकता शिविर का आयोजन

उत्तर प्रदेश राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण लखनऊ के निर्देशानुसार जिले में विधिक जागरूकता शिविर का आयोजन किया गया। यह आयोजन कानपुर देहात के अकबरपुर के जिला अस्पताल में जिला विधिक सेवा प्राधिकरण की सचिव साक्षी गर्ग की अध्यक्षता में की गई।

राष्ट्रीय तम्बाकू नियंत्रण कार्यक्रम
जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, कानपुर देहात सचिव साक्षी गर्ग द्वारा विधिक जागरूकता शिविर में बताया गया कि राष्ट्रीय तम्बाकू नियंत्रण कार्यक्रम के अन्तर्गत कोटपा अधिनियम 2003 के सिगरेट और तम्बाकू उत्पाद अधिनियम 2003 की धारा-4 (बी) एवं धारा-6 (बी) मे से सार्वजनिक स्थलों पर ध्रूमपान करना निषेध है। कोटपा अधिनियम 2003 की धारा-4 (बी) एवं धारा-6 (बी) के अन्तर्गत जन सामानय के साथ-साथ चिकित्सालय/कार्यालय/विद्यालय में कार्यरत अधिकारी/कर्मचारी/विद्यार्थी के स्वास्थ्य को दृष्टिगत रखते हुये परिसर को तम्बाकू मुक्त परिसर घोषित किया जाना है। निकोटिन के प्रभाव के चलते व्यक्ति को भूख प्यास कम लगने लगती है।

तम्बाकू राष्ट्रीय तम्बाकू नियंत्रण कार्यक्रम
जैसा कि तम्बाकू का सेवन विभिन्न तरीके से किया जाता है। सिगरेट सामान्य और सबसे अधिक हानिकारक है। बीड़ी आमतौर पर भारत में उपयोग किये जाने वाला सबसे सामान्य प्रकार है। सिगार, हुक्का, सीसा, तम्बाकू चबाना आदि स्वास्थ्य के लिये हानिकारक है। विधिक जागरूकता शिविर में मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. राजेश कटियार, अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. महेन्द्र जतारिया एवं जनपद सहायक स्वास्थ्य श्रीमती निधि बाजपेयी उपस्थित रहे।


Nia Sharma ने रवि दुबे को बताया 'बेस्ट किसर मैन' तो अब एक्टर ने किया रिएक्ट, कहा...       कल ओटीटी प्लेटफॉर्म पर रिलीज़ होंगी ये वेब सीरीज़ और फ़िल्में       Kiston Song: जाह्नवी कपूर-राजकुमार राव की फिल्म 'रूही' का दूसरा गाना 'किस्तों' रिलीज       Zeenat Aman के इंडस्ट्री में इतने साल पूरे होने पर भावुक हुईं पाकिस्तानी एक्ट्रेस सोमी अली       इस एक्ट्रेस के साथ जब शख्स ने भीड़ में की ऐसी हरकत, एक्ट्रेस भी हुईं हैरान       इन खिलाड़ियों को मिली जगह, इंग्लैंड के खिलाफ T20 सीरीज के लिए टीम इंडिया का ऐलान       जिम को देखकर चौंके भारतीय खिलाड़ी, दुनिया के सबसे बड़े क्रिकेट स्टेडियम के मुरीद हुए क्रिकेटर       पहले उनके खिलाफ खेला, अब उनके साथ खेलने को बेताब हूं : राहुल तेवतिया       T20 सीरीज के लिए जसप्रीत बुमराह और मोहम्मद शमी का चयन क्यों नहीं हुआ       इंग्लैंड के खिलाफ T20 और वनडे सीरीज में कमेंट्री करेगा ये भारतीय विकेटकीपर       कस्तूरबा गांधी: सफलता के पीछे रहा अहम योगदान, बापू का हर कदम पर दिया साथ       जिनके निधन पर आज रो रहा देश का हर किसान, जानिए कौन हैं दातार सिंह       महाराष्ट्र में मचा हाहाकार, 34 जिलों में तत्काल हाई अलर्ट जारी       नारायणसामी ने दिया इस्तीफा: पुडुचेरी में गिरी कांग्रेस सरकार       7 बार चुनकर पहुंचे थे लोकसभा, मुंबई के होटल में मिला इस दिग्गज नेता का शव       लाइलाज नहीं है डिप्रेशन और कम उम्र में भी हो सकती है इसकी समस्या, जानें       बहुत ही आसानी से पा सकते हैं बढ़ते वजन से छुटकारा, बस करने होंगे रूटीन में ये जरूरी बदलाव       शुगर लेवल कंट्रोल करना है तो नाश्ते में शामिल करें ये 5 जादुई चीज़ें       डेंगू में रामबाण इलाज है बकरी का दूध, जानें       गर्मियों में कूल और हेल्दी रहने के लिए खाएं फ्रूट कस्टर्ड, जानें