Motivational: सौरव गांगुली ने सिराज के जज्बे को किया नमस्कार

Motivational: सौरव गांगुली ने सिराज के जज्बे को किया नमस्कार

नई दिल्ली: भारतीय क्रिकेटर मोहम्मद सिराज के जज्बे को नमस्कार किया जाना चाहिए. इस समय वे ऑस्ट्रेलिया में हैं. यहां पर वे क्रिकेट सीरीज खेलने आए हैं. पिता के मृत्यु की समाचार के मिलने के बाद भी तेज गेंदबाज ने देश लौटने से मना कर दिया.

बीसीसीआई के सचिव जय शाह का बोलना है कि बोर्ड ने उन्हें देश लौटने का विकल्प दिया था मगर उन्होंने इससे मना कर दिया. सिराज ने टीम के साथ रहने का निर्णय लेते हुए राष्ट्रीय कर्तव्य को निभाना महत्वपूर्ण समझा.

बीसीसीआई ने घर जाने का विकल्प दिया था

बीसीसीआई ने सिराज के साथ चर्चा की और दुख की इस घड़ी में उन्हें अपने परिवार के साथ होने के लिए हिंदुस्तान जाने का विकल्प दिया गया. बीसीसीआई के सचिव जय शाह का बोलना है कि 'इस तेज गेंदबाज ने भारतीय दल के साथ बने रहने और अपने राष्ट्रीय कर्तव्यों को निभाने का निर्णय किया है. बीसीसीआई उनके दुख को साझा करता है और इस चुनौतीपूर्ण समय में सिराज का समर्थन करेगा'.

सौरव गांगुली ने की तारीफ

बोर्ड अध्यक्ष सौरव गांगुली ने इस त्रासदी में जीवटता और मजबूत मानसिकता दिखाने को कहा. उन्होंने हैदराबाद के इस तेज गेंदबाज की जमकर सराहना की है. उन्होंने ट्वीट कर बोला कि,‘मोहम्मद सिराज को इस हालात का सामना करने के लिए भगवान मजबूती दे. मैं इस दौरे पर उनकी सफलता को लेकर शुभकामनाएं देता हूं. जबरदस्त जीवटता.

पिता फेफड़ों की रोग से जूझ रहे थे

बताते चलें कि बीते शनिवार को सिराज के 53 वर्षीय पिता मोहम्मद गौस का मृत्यु हैदराबाद हो गया. वे फेफड़ों की रोग से जूझ रहे थे. उनका उपचार चल रहा था. इस दौरान सिराज को ऑस्ट्रेलिया दौरे पर जाना पड़ा. वे टीम इंडिया का भाग हैं और क्वारंटीन में हैं.

बेटे के करियर के लिए कड़ी मेहनत की

आज सिराज जिस मुकाम पर पहुंचे हैं, इसमें उनके पिता का अहम सहयोग रहा है. ऑटो चालक पिता ने अपने बेटे के करियर के लिए कड़ी मेहनत की. सिराज के खेल में कोई बाधा न आए, इसलिए उन्होंने कोई कमी महसूस नहीं होने दी. सीमित संसाधनों के बावजूद उन्होंने अपने बेटे की महत्वाकांक्षाओं का समर्थन किया.

ये बहुत ही दुखद पल है: सिराज

सिराज का बोलना है कि 'मेरे पिता का हमेशा से सपना था कि मैं देश का नाम रोशन करूं और वो मैं जरूर करूंगा. मैंने अपनी जीवन के सबसे बड़े समर्थक को खो दिया है, ये बहुत ही दुखद पल है. मुझे देश के लिए खेलते देखना उनका सपना था. मैं खुश हूं मैं उन्हें समझ सका और उन्हें खुश कर सका.'

सिराज ने एक साक्षात्कार बोला था कि उनके पिता हमेशा से उनके खेल में भूरपूर योगदान करते रहे हैं. उन्हें अच्छे से अच्छे जूते लाकर दिया करते थे. पिता चाहते थे कि वे एक बेहतरीन गेंदबाज बने.

सिराज का अब तक का सफर

सिराज ने हैदराबाद की गलियों में खेलते हुए टीम इंडिया में अपनी स्थान बनाई. सिराज 2016-17 में रणजी सीजन में 41 विकेट लेकर भारतीय प्रीमियर लीग में 2.6 करोड़ की बड़ी मूल्य पर बिके थे. सिराज ने वर्ष 2017 में ही हिंदुस्तान के लिए टी20 में पहली बार खेले. 2019 में उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के विरूद्ध वनडे शुरूआत की. इस समय वे ऑस्ट्रेलिया दौरे पर हैं.


मार्नस लाबुशेन ने स्टीव स्मिथ, बाबर आजम व बेन स्टोक्स को पीछे छोड़ा, ICC टेस्ट चैंपियनशिप में हासिल की खास उपलब्धि

मार्नस लाबुशेन ने स्टीव स्मिथ, बाबर आजम व बेन स्टोक्स को पीछे छोड़ा, ICC टेस्ट चैंपियनशिप में हासिल की खास उपलब्धि

मार्नस लाबुशेन ने चार मैचों की टेस्ट सीरीज में भारत के खिलाफ शुरुआत तो थोड़ी धीमी की, लेकिन जैसे-जैसे टेस्ट सीरीज आगे बढ़ी उनकी बल्लेबाजी व रन बनाने की गति भी बढ़ती चली गई। तीसरे टेस्ट मैच की पहली पारी में वो 91 रन पर आउट हो गए थे, लेकिन ब्रिसबेन टेस्ट मैच की पहली पारी में वो शतक लगाने में कामयाब हो गए। लाबुशेन ने भारत के खिलाफ अपने टेस्ट करियर का 5वां शतक लगाया।

मार्नस लाबुशेन का ये आइसीसी टेस्ट चैंपियनशिप का 5वां शतक रहा और अब वो स्टीव स्मिथ, बाबर आजम और बेन स्टोक्स से आगे निकल गए हैं। आइसीसी टेस्ट चैंपियनशिप में इन बल्लेबाजों के नाम पर चार-चार शतक दर्ज हैं तो वहीं लाबुशेन ने पांचवां शतक लगाकर सबको पीछे छोड़ दिया है।

आइसीसी टेस्ट चैंपियनशिप में सबसे ज्यादा शतक लगाने वाले बल्लेबाज-

5- मार्नस लाबुशेन

4- स्टीव स्मिथ


4- बाबर आजम

4- बेन स्टोक्स

3 - मयंक अग्रवाल

3 - अजिंक्य रहाणे

3 - अजहर मसूद

3 - रोहित शर्मा

3 - डेविड वार्नर

3 - केन विलियमसन

मार्नस लाबुशेन ने भारत के खिलाफ पहली पारी में 204 गेंदों का सामना करते हुए 108 रन की पारी खेली। उन्होंने अपनी पारी में 9 चौके लगाए वहीं स्टीव स्मिथ ने इस मैच में 36 रन की पारी खेली। मैथ्यू वेड ने 45 रन का योगदान दिया जबकि ओपनर डेविड वार्नर रन बनाने में सफल नहीं रहे और एक रन बनाकर आउट हो गए। मार्कस हैरिस भी सिर्फ 5 रन ही बना पाए। 

खेल के पहले दिन ऑस्ट्रेलिया ने 5 विकेट के नुकसान पर 274 रन बनाए तो वहीं भारत की तरफ से पहले दिन टी नटराजन को दो सफलता मिली जबकि मो. सिराज, वाशिंगटन सुंदर व शर्दुल ठाकुर को एक-एक सफलता मिली। इस मैच में खेल के पहले दिन भारतीय तेज गेंदबाज नवदीप सैनी चोटिल हो गए और वो मैदान से बाहर चले गए। उन्होंने 7.5 ओवर गेंदबाजी की। 


Samsung Galaxy S21 सीरीज के शानदार फोन लॉन्च       सिंह और धनु का भाग्य देगा साथ, राशिफल से जानें बाकी का हाल       लैंडलाइन से मोबाइल पर कॉल करने के लिए लगाना होगा ‘0’, आज से बदल गया नियम       Apple के प्रोडक्टस पर कैशबैक ऑफर, जानिए       रिलायंस जियो ने ग्राहकों को दिया बड़ा झटका!       केवल 25 में पाए लाखों का मुनाफा, यहां देखें पूरी जानकारी       सोने-चांदी के दाम में क्यों आ रहे उतार-चढ़ाव, ऐसे करें निवेश       यूपी: किन-किन जिलों में कल टीका लगेगा, कब पहुंचना होगा       खतरे में दुनिया, खत्म हो रहा जिंदगी जीने का सहारा       1.9 ट्रिलियन डॉलर के रिलीफ पैकज का ऐलान, जो बाइडन का अमेरिकियों को तोहफा       बांग्लादेश को आया गुस्सा! अमेरिका के बयान पर भड़का       कोरोना से दुनिया में तबाही, चमगादड़ों की मिली नई प्रजाति       भूकंप से बिछी लाशें, जोरदार झटकों से गिरी 60 से ज्यादा इमारतें       ट्रंप का चीन को बड़ा झटका! ब्लैकलिस्ट हुईं ये मशहूर कंपनियां       कैद हुई WHO टीम, अब तो चीन ने तोड़ दी सारी हदें       अमेरिका में कोरोना वायरस का कहर       नसों में उगा मशरूम, युवक की इस हरकत ने पहुंचाया अस्पताल       अमेरिकी कबूतर को सजा: तय किया 13 किमी का सफर, जाने       राष्ट्रपति जो बाइडेन खाते में भेजेंगे इतने रुपए, अमेरिका का हर आदमी होगा लखपति       अमेरिका में बिडेन का बड़ा ऐलान, सबको मिलेंगे 1-1 लाख रुपये