ICC की बैठक में अंपायर्स कॉल पर अहम फैसला, DRS नियम में किया बदलाव

ICC की बैठक में अंपायर्स कॉल पर अहम फैसला, DRS नियम में किया बदलाव

इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल ने गुरुवार को हुई बैठक में कई अहम चीजों पर फैसला लिया। बोर्ड ने पिछले दिनों विवाद में रहे ‘अंपायर्स कॉल’ को लेकर सबसे अहम फैसला लिया। बैठक में इस बात पर सहमति बनी की अंपायरों के फैसले की समीक्षा प्रणाली यानी डीआरएस मैच का हिस्सा बनी रहेगी। हालांकि इस मौजूदा बैठक में डीआरएस नियमों में कुछ बदलाव किए गए हैं लेकिन अंपायर्स कॉल बरकरार रखने का फैसला लिया है।

भारत और इंग्लैंड के बीच हाल ही में खेली गई वनडे सीरीज के दौरान अंपायर्स कॉल चर्चा का विषय रहा था। भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली ने अंपायर कॉल को ‘भ्रमित’ करने वाला बताया था इसके बाद इस पर क्रिकेट दिग्गजों ने भी अपनी अपनी राय दी थी। पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर, वीवीएस लक्ष्मण, आकाश चोपड़ा, इरफान पठान ने इसको लेकर चर्चा की थी।

मौजूदा नियमों के अनुसार, अगर अंपायर के नॉटआउट के फैसले को चुनौती दी जाती है तो उसे बदलने के लिए गेंद का 50 प्रतिशत से अधिक हिस्सा कम से कम एक स्टंप से टकराना चाहिए। ऐसा नहीं होने की स्थिति में बल्लेबाज नॉटआउट ही रहता है।


संचालन संस्था द्वारा बुधवार को बोर्ड बैठक खत्म होने के बाद जारी बयान में आइसीसी की क्रिकेट समिति के प्रमुख और पूर्व भारतीय कप्तान अनिल कुंबले ने कहा, 'अंपायर्स कॉल को लेकर क्रिकेट समिति में शानदार चर्चा हुई और इसके इस्तेमाल का विस्तृत आकलन किया गया। डीआरएस का सिद्धांत यह है कि मैच के दौरान स्पष्ट गलतियों को दूर किया जा सके, जबकि यह भी सुनिश्चित हो कि मैदान पर फैसले करने वालों के रूप में अंपायरों की भूमिका बनी रहे। अंपायर्स कॉल से ऐसा होता है और यही कारण है कि यह महत्वपूर्ण है कि यह बरकरार रहे।' 


आइसीसी ने कहा, 'एलबीडब्ल्यू के रिव्यू के लिए विकेट जोन की ऊंचाई को बढ़ाकर स्टंप के शीर्ष तक कर दिया गया है।' इसका मतलब हुआ कि अब रिव्यू लेने पर बेल्स के ऊपर तक की ऊंचाई पर गौर किया जाएगा, जबकि पहले बेल्स के निचले हिस्से तक की ऊंचाई पर गौर किया जाता था। इससे विकेट जोन की ऊंचाई बढ़ जाएगी। दूसरा बदलाव यह किया गया है कि एलबीडब्ल्यू के फैसले की समीक्षा पर निर्णय लेने से पहले खिलाड़ी अंपायर से पूछ पाएगा कि गेंद को खेलने का वास्तविक प्रयास किया गया था या नहीं। तीसरे बदलाव के तहत अब तीसरा अंपायर शॉर्ट रन की स्थिति में रीप्ले देखकर इसकी समीक्षा कर पाएगा और अगर कोई गलती होती है तो अगली गेंद फेंके जाने से पहले इसे सही करेगा।'


Jofra Archer की रहस्यमयी गेंद! बल्लेबाज को भी नहीं हो पाया यकीन

Jofra Archer की रहस्यमयी गेंद! बल्लेबाज को भी नहीं हो पाया यकीन

दुनिया के सबसे खतरनाक तेज गेंदबाजों में से एक इंग्लैंड के जोफ्रा आर्चर (Jofra Archer) चोटिल होने के चलते आईपीएल 2021 (IPL 2021) में नहीं खेल पाए थे। हालांकि अब आर्चर एकदम फिट हो गए हैं और इस समय मौजूदा काउंटी सीजन में अपना जलवा दिखा रहे हैं।  

काउंटी में चल रहे ससेक्‍स और सरे (Sussex vs Surrey) के बीच सैकंड इलेवन चैंपियनशिप के मुकाबले में आर्चर (Jofra Archer) ने कमाल की गेंदबाजी की। उनकी लहरती गेंदों का बल्लेबाजों के पास कोई उत्तर नहीं था। सरे के बल्लेबाज रिफर को आर्चर ने एक बहुत ही बेहतरीन गेंद पर आउट किया।

आर्चर (Jofra Archer) की ये गेंद इतनी बहुत बढ़िया थी कि सरे के इस बल्लेबाज के पास इसका कोई उत्तर नहीं था। बल्लेबाज पूरी तरह से चौंक गया और एक बार को उसे देख कर ऐसा अंदाजा लगाया जा सकता है कि अपने आउट होने पर उन्हें विश्वास ही नहीं था। गेंद सीधी रिफर के पैड पर लगी और अंपायर ने बिना समय लिए उन्हें आउट करार दिया।  

बता दें कि इस मैच में जोफ्रा (Jofra Archer) ने गेंद के अतिरिक्त अपने बल्ले से बहुत ज्यादा कमाल दिखाया था। उन्होंने बल्लेबाजी करते हुए केवल 46 गेंदों पर 35 रन बना दिए थे। अपनी इस पारी में उन्होंने 3 चौके और 2 छक्के जड़ दिए।  

जोफ्रा आर्चर (Jofra Archer) को मौजूदा समय में दुनिया का सबसे खतरनाक तेज गेंदबाज बोलना गलत नहीं होगा। आर्चर लगातार 150 किलोमीटर प्रति घंटा की तेजी से गेंदबाजी कर सकते हैं। उनकी बांउसर गेंदों पर अक्सर बड़े से बड़ा बल्लेबाज चोटिल हो जाता है। हाल ही में चोटिल होने से पहले आर्चर ने हिंदुस्तान के विरूद्ध भी एक टी20 मैच में केवल 33 रन देकर 4 विकेट झटके थे। 


कोविड-19 का कहर : मैं बचूंगा या नहीं घर गिरवी न रखना पापा, और उसने दुनिया को अलविदा कह दिया       सीएम योगी ने कहा कि गोरखपुर में बनेगा 100 बेड का नया कोविड हॉस्पिटल , BRD में बढ़ेंगे 50 वेंटिलेटर बेड       ऑस्ट्रेलिया के जंगलों से आई इस भेड़ ने सोशल मीडिया पर मचा दी धूम       रूस के राष्ट्रपति पुतिन ने स्पूतनिक वैक्सीन की तुलना AK-47 से की, कहा...       धरती पर आज गिरेगा चाइना का बेकाबू रॉकेट       Vladimir Putin ने रूसी कोरोना वैक्सीन को बताया दमदार, कहा...       दुनिया के सबसे बड़े Cargo Plane ने सहायता का सामान लेकर India के लिए भरी उड़ान       Imran Khan ने Indian Embassies की प्रशंसा क्या की, आग बबूला हो गए पाकिस्तानी       हिंदुस्तान से अपने देश तुरंत लौट आएं सभी लोग, अमेरिका की अपने नागरिकों से अपील       बाइसन को मारने US में निकली 12 वेकेंसी       यूनीसेफ ने हिंदुस्तान में बढ़ रहे कोविड-19 मामलों पर जताई चिंता, कहा...       व्लादिमीर पुतिन ने कहा कि रूस की कोविड-19 वैक्सीन AK-47 जितनी भरोसेमंद       Africa में मिली इतने हजार वर्ष पुरानी कब्र, खुलेंगे कई अहम राज       भारतीय टीम में सिलेक्शन से दंग यह क्रिकेटर, बोले...       पूर्व भारतीय हॉकी कोच एमके कौशिक का मृत्यु       कोविड-19 बना काल: नहीं रहे BCCI के आधिकारिक स्कोरर केके तिवारी       कोविड-19 के विरूद्ध जंग में विराट के बाद ऋषभ पंत भी कूदे       इंग्लैंड जाने से पहले हिंदुस्तान में ही 8 दिन क्वारंटीन रहेगी टीम इंडिया       दिल जीत लेगी इस क्रिकेटर की दलील, बोले...       इंग्लैंड दौरे पर टीम इंडिया में हार्दिक पांड्या को क्यों नहीं मिली जगह