बाल झड़ने की समस्या से निजात पाने के लिए इन चीजों का जरूर करें इस्तेमाल

बाल झड़ने की समस्या से निजात पाने के लिए इन चीजों का जरूर करें इस्तेमाल

बढ़ते प्रदूषण, गलत खानपान, खराब दिनचर्या और तनाव की वजह से कई तरह बीमारियां दस्तक देती हैं। इनमें एक समस्या लगभग सभी लोगों में देखा जाता है और वह समस्या बालों की है। इससे हर कोई परेशान है। कोई असमय बालों के पकने और  गिरने से परेशान है, तो कोई गंजेपन से परेशान है। वहीं, कई लोग डैंड्रफ से परेशान हैं। अगर आप भी बालों की समस्या से परेशान हैं, तो आप इन चीजों को इस्तेमाल कर सकते हैं। इनके इस्तेमाल से बालों की समस्या से बहुत जल्द निजात मिल सकता है। आइए जानते हैं-

आंवला और नींबू

बालों की समस्या को दूर करने में आंवला और नींबू फायदेमंद साबित होता है। इसके लिए सबसे पहले आंवले को अच्छी तरह से पीस लें। अब इसमें नींबू का रस मिलाकर अपने बालों पर लगाएं। इसके बाद हल्के हाथों से बालों की मालिश करें। कुछ समय बाद जब बाल सुख जाए, तो नार्मल पानी से बालों को धोएं। आप चाहे तो शैंपू का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। इस उपाय से आपको जल्द असर देखने को मिलेगा।

तुलसी का टोनर स्किन को हील और हाइड्रेट करता है।
Basil for Acne Remove: तुलसी से तैयार हर्बल टोनर चेहरे के मुहांसों और दाग घब्बों से दिलाएगा निजात
यह भी पढ़ें
कच्चा पपीता

पेट संबंधी विकारों को दूर करने में पपीता दवा समान है। साथ ही यह असमय बालों के पकने और गिरने की समस्या से भी निजात दिलाता है। इसके लिए कच्चे पपीते को ब्लेंड कर पेस्ट बनाकर अपने बालों में लगाएं। आप चाहे तो बालों की मालिश भी कर सकते हैं। जब पेस्ट सुख जाए तो बालों को शैंपू और पानी की मदद से धो लें। जल्द आपको परिणाम देखने को मिल सकता है।

नीम के पत्ते

गिरते बालों के लिए यह रामबाण दवा है। इसमें एंटीबैक्टीरियल, एंटीफंगल और एंटीइंफ्लाममटोरी के गुण पाए जाते हैं, जो डैंड्रफ समेत बालों की समस्या को दूर करने में सहायक होते हैं। नीम के पत्ते बालों को मजबूत करते हैं। साथ ही इसके  इस्तेमाल से दो मुंहे बालों से भी छुटकारा दिलाता है।

अरंडी का तेल

यह तेल बालों को लंबे, काले और घना बनाने में असरदार है। इसके लिए दो चम्मच अरंडी के तेल को गुनगुना गर्म कर लें। अब इसमें आधा चम्मच नींबू का रस मिला लें। इसके बाद इस मिश्रण से बालों की मालिश करें। रोजाना रात में सोने से पहले करें और अगली सुबह को अपने बालों को धो लें। ऐसा करने से आपको जल्द बेहतर परिणाम देखने को मिल सकता है।


डिस्क्लेमर: स्टोरी के टिप्स और सुझाव सामान्य जानकारी के लिए हैं। इन्हें किसी डॉक्टर या मेडिकल प्रोफेशनल की सलाह के तौर पर नहीं लें। बीमारी या संक्रमण के लक्षणों की स्थिति में डॉक्टर की सलाह जरूर लें।


हर स्त्री को करनी चाहिए इतनी बार शादी, तभी पूरा होता है उनका जीवन

हर स्त्री को करनी चाहिए इतनी बार शादी, तभी पूरा होता है उनका जीवन

आप की शादी से पहले से दुल्हन का स्वामित्व 3 लोगों को सौंपा जाता है। विवाह के समय जब पंडित आपको विवाह का मंत्र पढ़ा रहा होता है तब आप मंत्र का मतलब नहीं समझते हैं। असल में वैदिक परंपरा में नियम है कि स्त्री अपनी इच्छा से चार लोगों को पति बना सकती है। इस नियम को बनाए रखते हुए स्त्री को पतिव्रत की मर्यादा में रखने के लिए विवाह के समय ही स्त्री का संकेतिक विवाह तीन देवताओं से करा दिया जाता है।

4 पतियों से होती है स्त्री की शादी:

इसमें सबसे पहले किसी भी दूल्हन (कन्या) का पहला अधिकार चन्द्रमा को सौंपा जाता है, इसके बाद विश्वावसु नाम के गंधर्व को और तीसरे नंबर पर अग्नि को और अंत में उसके पति को सौंपा जाता है। 

इसी ही वैदिक परंपरा के कारण ही द्रौपदी एक से अधिक पतियों के साथ रही थी। और फिर अंत में आपको दुल्हन का हाथ सोप जाता है।