माता के जागरण में नरेंद्र चंचल की आवाज सुनकर ही भक्तों की भीड़ लग जाती थी

माता के जागरण में नरेंद्र चंचल की आवाज सुनकर ही भक्तों की भीड़ लग जाती थी

चलो बुलावा आया है, माता ने बुलाया है... इस देवी भजन में एक ऐसी आवाज जिसे देशवासी वर्षों तक नहीं भूलेंगे, आज वह आवाज खामोश हो गई । माता ने अपना सबसे प्यारा भक्त को अपने पास बुला लिया ।‌ अब देवी जागरण में वह गायकी कभी नहीं सुनाई देगी जिसे पूरा देश 50 वर्षों से सुनता आ रहा है । शुक्रवार दोपहर को जब यह खबर आई कि भजन सम्राट और माता जागरण को देश के कोने-कोने में पहुंचाने वाले नरेंद्र चंचल नहीं रहे, तब लाखों-करोड़ों संगीत प्रेमियों और माता के भजन सुनने वालों की आंखें नम हो गईं ।‌ बता दें कि शुक्रवार दोपहर नरेंद्र चंचल का दिल्ली के अपोलो अस्पताल में  लंबी बीमारी के बाद निधन हो गया, वे 80 वर्ष के थे और पिछले दो महीने से अपोलो अस्पताल‌ में भर्ती थे। नरेंद्र चंचल अपने पीछे दो बेटे और एक बेटी छोड़ गए हैं। उनका जन्म 1940 में पंजाब के अमृतसर शहर के नानक मंडी‌ में हुआ था और उनका पालन-पोषण धार्मिक माहौल में हुआ । उसके बाद वे दिल्ली में आकर बसे और यहीं के होकर रह गए। बता दें कि नरेंद्र चंचल में माता के भजनों को लेकर रुचि इसलिए बढ़ी क्योंकि उन्होंने बचपन से ही अपनी मां को मातारानी के भजन गाते सुना था। यही वजह थी कि नरेंद्र अपनी पहली गुरु अपनी मां को माना करते थे। इसके बाद चंचल ने प्रेम त्रिखा से संगीत सीखा, फिर वह भजन गाने लगे थे ।

माता के भजनों से ही चंचल ने देश और विदेशों में नाम कमाया

बता दें कि नरेंद्र चंचल ने माता के भजन गाकर ही देश-विदेशों में खूब प्रसिद्धि पाई, उन्हें लोग बहुत ही आदर और सम्मान दिया करते थे ।‌ नरेंद्र चंचल को माता के भजनों के लिए ही जाना जाता है। बचपन से ही नरेंद्र चंचल भजन गाने लगे । चंचल जागरण में माता की भेंटें गाते । 1970 और 80  के दशक में वह माता के जागरण की शान हुआ करते थे, और उनकी आवाज और गायकी भक्तों और लोगों को अपने में आत्मसात कर लेती थी । नरेंद्र चंचल जिस जागरण में जाते थे, वहां लोगों का हुजूम उमड़ पड़ता था। उनके माता के भजन सुनने के लिए हजारों लोग पूरी रात जागा करते थे। नरेंद्र चंचल के निधन पर उनके फैन्स और शुभचिंतकों में शोक का माहौल है। सोशल मीडिया पर पोस्ट करके तमाम फिल्म इंडस्ट्री और गायकी से जुड़े दिग्गजों ने नरेंद्र की आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना की है। उन्हें अमेरिकी राज्य जॉर्जिया की मानद नागरिकता भी प्राप्त थी।

भजन के साथ हिंदी सिनेमा में भी नरेंद्र चंचल ने अपनी अलग छाप छोड़ी

नरेंद्र चंचल की लोकप्रियता का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि उन्होंने अमिताभ बच्चन से लेकर शोमैन राजकूपर की फिल्मों के लिए भी गाने गाए। अमिताभ बच्चन अभिनीत 'बेनाम' फिल्म में गाया गाना आज भी लोग खूब पसंद करते हैं। इस फिल्म के गाने में चंचल भी नजर आए थे। चंचल ने राज कपूर निर्देशित फिल्म 'बॉबी' में 'बेशक मंदिर मस्जिद तोड़ो...' गाने के लिए भी उन्हें जाना जाता है। इस गाने के लिए उन्हें श्रेष्ठ गायक का फिल्मफेयर पुरस्कार भी मिला था ।‌ 1973 में रिलीज हुई 'बॉबी' के अलावा नरेंद्र चंचल ने 'रोटी कपड़ा और मकान', 'आशा', 'बदनाम', 'अवतार', 'काला सूरज', 'अपने' जैसी फिल्मों के लिए भी अपनी गायकी का जलवा दिखाया । लता मंगेशकर के साथ नरेंद्र चंचल 'बाकी कुछ बचा तो महंगाई मार गई' गाना गया। इसके अलावा उन्होंने मोहम्मद रफी के साथ 1980 में 'तूने मुझे बुलाया शेरा वालिए', 1983 में आशा भोसले के साथ चलो बुलावा आया है माता ने बुलाया है और 'दो घूंट पिला के साकिया, हुए हैं कुछ ऐसे वो हमसे पराए' जैसे गीत नरेंद्र चंचल ने गाए। फिल्म अवतार में देवी माता का भजन, चलो बुलावा आया है माता ने बुलाया है, और तूनेेे मुझे बुलाया शेरा वालिए आज भी जागरण समेत हर नवरात्रि पर जरूर सुनाई देता है ।

(शंभू नाथ गौतम, वरिष्ठ पत्रकार)


महिलाएं हल्दी के लेप से बढ़ाएं अपने चेहरे का निखार

महिलाएं हल्दी के लेप से बढ़ाएं अपने चेहरे का निखार

अक्सर महिलाएं अपने चेहरे के निखार के लिए कई तरीके अपनाती है। आजकल मार्केट में ऐसे कई फेस मास्क उपलब्ध हैं जो चेहरा बेदाग और चमकदार बनाते हैं लेकिन इनके कई साइड इफेक्ट भी है। घर पर ही एक प्राकृतिक फेस पैक तैयार कर सकती हैं। हल्दी एक ऐसा ही प्रकृतिक मसाला है, जिसके इस्तेमाल से झुर्रियां ठीक होती हैं और चमकदार त्वचा भी प्राप्त होती है।

घर पर ही बनाएं हल्दी का फेस पैक:

इसको बनाने के लिए ½ चम्मच हल्दी पाउडर 1 चम्मच दही में मिलाएं। इस पेस्ट को अपने चेहरे पर 15 मिनट के लिए लगाएं और फिर ठण्डे पानी से धो लें। हल्दी, त्वचा की सफाई करती है और दही नमी पहुंचाती है।


इस पेस्ट को बनाने के लिए शहद और हल्दी में थोडी सी बूंद गुलाब जल की मिला दें। फिर पेस्ट को अपने गर्दन और चेहरे पर लगाएं। यह पेस्ट झुर्रियां हटाता है इसलिए इसको हफ्ते में दो बार लगाएं।

हल्दी को आटे के साथ मिलाएं और उसमें कुछ बूंद शहद और दूध की डालें। इसका पेस्ट बनाएं और अपने चेहरे पर लगाएं। 

इस पेस्ट को लगाने से पहले अपने चेहरे को साबुन से धो लें फिर इस पेस्ट को 10 मिनट के लिए चेहरे पर लगा कर रखें और फिर गरम पानी से धो लें। इस हल्दी पेस्ट को लगाने से सन टैनिंग भी गायब हो जाती है।


Nia Sharma ने रवि दुबे को बताया 'बेस्ट किसर मैन' तो अब एक्टर ने किया रिएक्ट, कहा...       कल ओटीटी प्लेटफॉर्म पर रिलीज़ होंगी ये वेब सीरीज़ और फ़िल्में       Kiston Song: जाह्नवी कपूर-राजकुमार राव की फिल्म 'रूही' का दूसरा गाना 'किस्तों' रिलीज       Zeenat Aman के इंडस्ट्री में इतने साल पूरे होने पर भावुक हुईं पाकिस्तानी एक्ट्रेस सोमी अली       इस एक्ट्रेस के साथ जब शख्स ने भीड़ में की ऐसी हरकत, एक्ट्रेस भी हुईं हैरान       इन खिलाड़ियों को मिली जगह, इंग्लैंड के खिलाफ T20 सीरीज के लिए टीम इंडिया का ऐलान       जिम को देखकर चौंके भारतीय खिलाड़ी, दुनिया के सबसे बड़े क्रिकेट स्टेडियम के मुरीद हुए क्रिकेटर       पहले उनके खिलाफ खेला, अब उनके साथ खेलने को बेताब हूं : राहुल तेवतिया       T20 सीरीज के लिए जसप्रीत बुमराह और मोहम्मद शमी का चयन क्यों नहीं हुआ       इंग्लैंड के खिलाफ T20 और वनडे सीरीज में कमेंट्री करेगा ये भारतीय विकेटकीपर       कस्तूरबा गांधी: सफलता के पीछे रहा अहम योगदान, बापू का हर कदम पर दिया साथ       जिनके निधन पर आज रो रहा देश का हर किसान, जानिए कौन हैं दातार सिंह       महाराष्ट्र में मचा हाहाकार, 34 जिलों में तत्काल हाई अलर्ट जारी       नारायणसामी ने दिया इस्तीफा: पुडुचेरी में गिरी कांग्रेस सरकार       7 बार चुनकर पहुंचे थे लोकसभा, मुंबई के होटल में मिला इस दिग्गज नेता का शव       लाइलाज नहीं है डिप्रेशन और कम उम्र में भी हो सकती है इसकी समस्या, जानें       बहुत ही आसानी से पा सकते हैं बढ़ते वजन से छुटकारा, बस करने होंगे रूटीन में ये जरूरी बदलाव       शुगर लेवल कंट्रोल करना है तो नाश्ते में शामिल करें ये 5 जादुई चीज़ें       डेंगू में रामबाण इलाज है बकरी का दूध, जानें       गर्मियों में कूल और हेल्दी रहने के लिए खाएं फ्रूट कस्टर्ड, जानें