बृहस्पति की कृपा पाने व इनसे जुड़े गुनाह को दूर करने के लिए अपनाए यह तरीका

बृहस्पति की कृपा पाने व इनसे जुड़े गुनाह को दूर करने के लिए अपनाए यह तरीका

ज्योतिष के अनुसार देवताओं के गुरु बृहस्पति को एक शुभ देवता व ग्रह माना गया है. 9 ग्रहों में से एक बृहस्पति के शुभ असर से सुख, सौभाग्य, लंबी आयु, धर्म फायदा आदि मिलता है.वहीं किसी लड़की की विवाह में यह ग्रह अहम किरदार निभाता है. आमतौर पर देवगुरु बृहस्पति शुभ फल ही प्रदान करते हैं, लेकिन यदि कुंडली में यह किसी पापी ग्रह के साथ बैठ जाएं तो कभी-कभी अशुभ इशारा भी देने लगते हैं. ऐसे में बृहस्पति की कृपा पाने व इनसे जुड़े गुनाह को दूर करने के लिए निम्न तरीका करें —

Image result for गुरुवार का महाउपाय


1. देवगुरु को प्रसन्न करने के लिए बृहस्पतिवार के दिन दाल, हल्दी, पीले वस्त्र, बेसन के लड्डू आदि किसी योग्य ब्राह्मण को दान करें और केले के वृक्ष पर जल चढ़ाएं.

2. देवताओं के गुरु बृहस्पति को प्रसन्न करने के लिए प्रत्येक पूर्णिमा को सत्यनारायण भगवान की कथा सुनें या खुद कहें. साथ ही साथ रोजाना भगवान विष्णु की विशेष रूप से आराधना करें व केले का भोग लगाएं. प्रसाद स्वरूप खुद खाएं व दूसरे लोगों में भी बांटे.

3. सिर्फ बृहस्पतिवार के दिन ही नहीं बल्कि रोजाना भगवान श्री विष्णु की आराधना के बाद हल्दी व चंदन का तिलक करें. किसी भी शुभ काम को करने के लिए निकलते समय इस तरीका को अवश्य करें, सफलता अवश्य मिलेगी.

4. देवगुरु बृहस्पति को प्रसन्न करने के लिए रोजाना 'ॐ भगवते वासुदेवाय नमः' मंत्र का एक माला जाप करें. साथ ही भगवान विष्णु को संभव हो तो पीले रंग के फल का भोग लगाकर प्रसाद के रूप में बांटें.

5. तमाम तरह के आर्थिक कष्टों को दूर करने के लिए भगवान विष्णु को प्रसन्न करने करने के लिए बृहस्पतिवार को विशेष रूप से विष्णुसहस्रनाम का पाठ करें. कोशिश करें कि इसका रोजाना पाठ करें. भक्ति-भाव से यह तरीका करने पर निश्चित रूप से बाधाएं दूर होंगी व कार्यों में सफलता मिलेगी.