अकबर रोड स्थित बंगले में रह रहे शाह को आवंटित किया जा सकता है यह बंगला

 अकबर रोड स्थित बंगले में रह रहे शाह को आवंटित किया जा सकता है यह बंगला

नवनियुक्त केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) को पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी (Atal Bihari Vajpayee) का कृष्णमेनन मार्ग स्थित बंगला आवंटित किया जा सकता है. वाजपेयी 2004 में पीएम के पद से हटने के बाद इसमें रह रहे थे. पिछले वर्ष अगस्त में वाजपेयी के निधन के बाद उनके परिजनों ने नवंबर में इस बंगले को खाली कर दिया था.

सरकार के सूत्रों ने बृहस्पतिवार को बताया कि बतौर गृह मंत्री, शाह की सुरक्षा जरूरतों के मुताबिक इस बंगले को अगले एक महीने में तैयार कर दिया जायेगा. सत्रहवीं लोकसभा के गठन के बाद बतौर केन्द्रीय मंत्री, शाह को यह बंगला आवंटित किया गया है. इस बंगले में वैसे महत्वपूर्ण मरम्मत का कार्य चल रहा है. बंगले पर तैनात कर्मचारियों ने बताया कि शाह खुद बंगले का मुआयना कर आवश्यकता के मुताबिक मरम्मत आदि के कार्य का जायजा ले चुके हैं.

अभी अकबर रोड स्थित बंगले में रहे रहे हैं शाह

नवगठित लोकसभा में शाह, गांधीनगर लोकसभा क्षेत्र से बतौर सांसद भी निर्वाचित हुये हैं. वैसे वह राज्यसभा मेम्बर के रूप में, अकबर रोड स्थित 11 नंबर बंगले में रह रहे हैं. वह 19 अगस्त 2017 में राज्यसभा मेम्बर बने थे. उच्च सदन में उनका कार्यकाल 2023 तक निर्धारित था. लेकिन हाल ही में हुये लोकसभा चुनाव में जीतने व नरेन्द्र मोदी सरकार में गृह मंत्री बनाये गये शाह को नया बंगला आवंटित किया गया है.

वाजपेयी ने 14 साल बंगले में गुजारे

बतौर पूर्व पीएम वाजपेयी, 14 वर्ष तक कृष्णमेनन मार्ग स्थित बंगला बंगले में रहे. उनके निधन के बाद, तत्कालीन नरेन्द्र मोदी सरकार ने इस बंगले को अटल स्मृति के रूप में घोषित करने के कुछ बीजेपी नेताओं के विचार को खारिज कर दिया था. सरकार ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की समाधि, राजघाट के पास वाजपेयी के समाधि स्थल को उनकी स्मृति में सदैव अटल के नाम से विकसित किया है.