आदित्यनाथ सरकार का पहला व संभवतः आखिरी मंत्रीमंडल आज, शामिल होने वाले है ये नए चेहरों

आदित्यनाथ सरकार का पहला व संभवतः आखिरी मंत्रीमंडल आज, शामिल होने वाले है ये नए  चेहरों

यूपी की योगी आदित्यनाथ सरकार का पहला व संभवतः आखिरी मंत्रीमंडल आज यानि बुधवार को होगा. सभी की नजरें इस विस्तार में शामिल होने वाली चेहरों पर है. बता दें कि सरकार में कुल 60 मंत्री बनाए जा सकते हैं. जिसमें केवल 47 पद ही भरे जा सकें हैं. इनमें से भी पांच मंत्रियों की इस्तीफे के बाद अलावा सीट खाली हुई हैं. मंत्रिमंडल विस्तार बुधवार पूर्वाह्न 11 बजे राजभवन के गांधी मीटिंग हॉल में होगा. गवर्नर आनंदीबेन पटेल नए मंत्रियों व स्वतंत्र प्रभार से कैबिनेट तथा राज्यमंत्री से स्वतंत्र प्रभार मंत्री बनाए जाने वालों को शपथ दिलाएंगी.

Image result for आदित्यनाथ सरकार का पहला व संभवतः आखिरी मंत्रीमंडल आज, शामिल होने वाले है ये नए  चेहरों

जानकारी के अनुसार, विस्तार के बाद कई मंत्रियों के विभागों में भी फेरबदल किया जा सकता है. कुछ मंत्रियों को जरूरी विभाग देकर कद बढ़ाया जा सकता है तो कुछ के पर छांटे जा सकते हैं. प्रदेश में मंत्रिमंडल के सदस्यों की संख्या 60 तक हो सकती है. तीन मंत्रियों के सांसद चुन लिए जाने, एक मंत्री स्वतंत्रदेव के त्यागपत्र व ओमप्रकाश राजभर की बर्खास्तगी के कारण मंत्रिमंडल की संख्या 42 ही रह गई थी. अब इस्तीफों के कारण यह संख्या व कम हो गई है.

नए चेहरों में मुजफ्फरनगर से कपिल देव अग्रवाल, बुलंदशहर की शिकारपुर सीट से अनिल शर्मा, पूर्वांचल से सतीश द्विवेदी, एमएलसी अशोक कटियार, विद्यासागर सोनकर, फतेहपुर सीकरी से उदयभान सिंह, वीरेंद्र कश्यप, चंद्रिका उपाध्याय, आनंद स्वरूप शुक्ला, अमेठी से दलबहादुर कोरी सहित एक दर्जन से अधिक विधायकों मंत्रिपरिषद में शामिल किया जा सकता है. इस विस्तार में सहयोगी अपना दल को भी जगह दिया जा सकता है. कयास लगाए जा रहे हैं कि विस्तार सामाजिक समीकरण को ध्यान में रखकर किया जा रहा है.