सभी पल पर अपनी नजरें गड़ाए हुए रोहित ने ड्रेसिंग रूम की बालकनी से कुछ इस तरह से जडेजा का उत्साह बढ़ाना किया प्रारम्भ, लेकिन...

 सभी पल पर अपनी नजरें गड़ाए हुए रोहित ने ड्रेसिंग रूम की बालकनी से कुछ इस तरह से जडेजा का उत्साह बढ़ाना किया प्रारम्भ, लेकिन...

जिस तरह से टीम इंडिया ने ग्रुप में टॉप करके सेमीफाइनल में प्रवेश किया था, उसे देखकर शायद ही किसी को सेमीफाइनल में ऐसी पराजय की उम्मीद हो। न्यूजीलैंड ने भारत को 18 रन से मात देकर फाइनल में प्रवेश कर लिया। मैनचेस्टर में खेले गए सेमीफाइनल मुकाबले में हिंदुस्तान की दशा आरंभ से ही बुरी हाे गई थी। विराट ‌कोहली की अगुआई में टीम ने 240 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए अपने तीनों टॉप ऑर्डर के बल्लेबाज पांच रन के भीतर गंवा दिया। इसके बाद हार्दिक पांड्या व ऋषभ पंत भी पारी को नहीं संभाल सके व टीम को पराजय साफ साफ नजर आने लगी। 92 रन पर छह विकेट गिरने के बाद मुकाबला एक तरफा होता दिख रहा था।


Image result for ड्रेसिंग रूम से रोहित, ऐसे बढ़ा रहे थे जडेजा का उत्साह \
पराजय भारतीय टीम के जैसे जैसे करीब पहुंच रह‌ी थी, भारतीय ड्रेसिंग रूम में उदासी छाने लगी। लेकिल तभी एमएस धोनी व रवीन्द्र जडेजा की जोड़ी ने एक बार अपनी टीम के अंदर जीत का जोश भर दिया। दोनों के बीच 116 रन की साझेदार हुई व टीम को उम्मीदों की किरण दिखने लगी।
सबकी उम्मीदें इसी जोड़ी पर टिक गई। खासकर रवीन्द्र जडेजा पर, जिन्हें कुछ दिनों पहले बहुत ज्यादा आलोचनाओं का सामना करना पड़ा। न्यूजीलैंड के विरूद्ध टीम सहित फैंस को वह संकटमोचक नजर आने लगे। टीम की भी धड़कने बढ़ने लगी व इसी बीच जडेजा ने अपना अर्धशतक भी जड़ दिया, जिसका जश्न उन्‍होंने अपने जाने पहचाने अंदाज में तलवार जैसे बल्ले को चलाकर मनाया। ड्रेसिंग रूम में भी माहौल थोड़ा खुशनुमा हुआ। रोहित शर्मा सभी पल पर अपनी नजरें गड़ाए हुए ‌थे व इसी बीच उन्होंने ड्रेसिंग रूम की बालकनी से जडेजा का उत्साह बढ़ाना प्रारम्भ कर दिया।

रोहित ने बालकनी से संकेत करके बोला कि तुम मजबूत हो। उनकी इस प्रयास ने फैंस का दिल भी जीत लिया। हालांकि जडेजा 77 रन बनाकर बोल्ट का शिकार हो गए व उनके बाद धाेनी भी रन आउट हो गए। इसके साथ ही हिंदुस्तान की भी सारी उम्मीदें समाप्त हो गई।