भारतीय स्टेट बैंक 1 अगस्त से बिल्कुल मुफ्त करने जा रहा है अपनी यह सर्विस, करोड़ों लोगों को होगा फायदा

भारतीय स्टेट बैंक 1 अगस्त से बिल्कुल मुफ्त करने जा रहा है अपनी यह सर्विस, करोड़ों लोगों को होगा फायदा

देश का सबसे बड़ा सरकारी बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया ( भारतीय स्टेट बैंक ) अपने ग्राहकों के लिए पैसों के लेन-देन से जुड़ी सर्विस आईएमपीएस (IMPS) सर्विस को 1 अगस्त से बिल्कुल मुफ्त करने जा रहा है. अभी तक आईएमपीएस करने पर बैंक चार्ज लेता था लेकिन अब 1 अगस्त से यह चार्ज नहीं लगेगा.

Image result for भारतीय स्टेट बैंक, 1 अगस्त , नयी सर्विस

इससे पहले एसबीआई बैंक ने आरटीजीएस (RTGS) व एनईएफटी (NEFT) चार्ज योनो, इंटरनेट बैंकिंग व मोबाइल बैंकिंग कस्टमर के लिए 1 जुलाई से समाप्तकर दी थी. अब बैंक आईएमपीएएस के चार्ज योनो, इंटरनेट बैंकिंग व मोबाइल बैंकिंग कस्टमर के लिए 1 अगस्त से समाप्त कर देगा.

31 मार्च 2019 तक एसबीआई के 6 करोड़ कस्टमर इंटरनेट बैंकिंग का प्रयोग कर रहे हैं. वहीं 1.41 करोड़ कस्टमर मोबाइल बैंकिंग का प्रयोग कर रहे हैं.एसबीआई बैंक के डिजिटल प्लेटफॉर्म योनो के करीब 1 करोड़ उपभोक्ता हैं. बैंक का मानना है कि एनईएफटी, आईएमपीएस व आरटीजीएस चार्ज समाप्त करने से डिजिटल ट्रांजेक्शन करने वाले ग्राहकों की संख्या में इजाफा होगा.

इसके अतिरिक्त बैंक ने ब्रांच नेटवर्क के जरिए आरटीजीएस व एनईएफटी करने वाले कस्टमर के लिए चार्ज 20 प्रतिशत तक कम कर दिया है.

क्या है आईएमपीएस सर्विस
1 इसके जरिए आप 24X7 फंड ट्रांसफर कर सकते हैं. इस सर्विस की खास बात यह है कि इसमें रियल टाइम यानी तुरंत सामने वाले के अकाउंट में आ जाता है.
2 अगर आपने किसी आदमी को IMPS के जरिए रात को एक बजे फंड ट्रांसफर किया है, तो वह उसी समय अकाउंट होल्डर के अकाउंट में पहुंच जाएगा.
3 ये सेवा छुट्टी के दिन भी प्रयोग कर सकते हैं.