रोहित को मिलेगा भरपूर वक्त : कोहली

रोहित को मिलेगा भरपूर वक्त : कोहली

दक्षिण अफ्रीका (South Africa) के विरूद्ध पहले टेस्ट के लिए टीम इंडिया (Team India) की प्लेइंग इलेवन (Playing Eleven) का ऐलान कर दिया गया है। एक्सरसाइज मैच में असफल रहने के बावजूद दक्षिण अफ्रीका के विरूद्ध रोहित शर्मा ही बतौर ओपनर मैदान में कदम रखेंगे। केएल राहुल (KL Rahul) की लगातार असफलता के चलते रोहित शर्मा (Rohit Sharma) को ओपनर के तौर पर टेस्ट टीम में शामिल किया गया है। हालांकि वनडे में वे शिखर धवन (Shikhar Dhawan) के साथ ओपनिंग करते रहे हैं। यहां तक कि हाल ही में समाप्त हुए आईसीसी वर्ल्ड कप 2019 में रोहित शर्मा ने ओपनिंग करते हुए रिकॉर्ड पांच शतक लगाए थे। विशाखापत्तनम में दो अक्टूबर से प्रारम्भ हो रहे टेस्ट मैच से पहले प्लेइंग इलेवन का ऐलान करते हुए कैप्टन विराट कोहली ने रोहित शर्मा को लेकर पूछे गए सवाल का भी खुलकर जवाब दिया।



रोहित को मिलेगा भरपूर वक्त : कोहली
दरअसल, रोहित शर्मा (Rohit Sharma) को लेकर विराट कोहली (Virat Kohli) से पूछा गया था कि क्या टीम मैनेजमेंट (Team Management) रोहित को कम से कम पांच या छह टेस्ट खिलाएगा? इस पर कोहली ने बोला कि हम रोहित को लेकर किसी तरह की जल्दबाजी में नहीं हैं। रोहित को टेस्ट की योजनाओं में शामिल होने के लिए भरपूर वक्त दिया जाएगा। आप हिंदुस्तान के लिए अलग व विदेश के लिए अलग रणनीति बनाते हैं। ओपनिंग ऐसी स्थान है जहां आपको अपना खेल समझने के लिए बल्लेबाज को वक्त देना होता है। यही वजह है कि रोहित को लेकर हड़बड़ी की आवश्यकता नहीं है। लय हासिल करने के बाद वह खेल का रुख पूरी तरह बदल देते हैं। हम रोहित शर्मा से किसी खास तरह की बल्लेबाजी की अपेक्षा नहीं कर रहे हैं। यह उनके लय हासिल करने की बात है। बेशक उनके पास खेल का रुख मोड़ देने की ताकत है, जैसा कि वीरू भाई (वीरेंद्र सहवाग) ने लंबे समय तक टीम इंडिया के ल‌िए किया है।

विराट कोहली (Virat Kohli) ने बोला कि ऐसा नही है कि वीरेंद्र सहवाग (Virender Sehwag) से किसी ने आक्रामक बल्लेबाजी करते हुए लंच से पहले ही शतक लगाने के लिए बोला था बल्कि ये उनका स्वाभाविक खेल था, जिसकी वजह से वे एक बार सहज महसूस करने के बाद विपक्षी टीम के गेंदबाजी आक्रमण को तहस-नहस कर देते थे। निश्चित रूप से रोहित शर्मा (Rohit Sharma) के पास ऐसी क्षमता है। अगर पिच चुनौतीपूर्ण है तो आप उन्हें गेंद पर करारे प्रहार करते हुए नहीं देखेंगे, ऐसे दशा में क्या करना है, वे अच्छी तरह जानते हैं। विराट कोहली ने ये भी खुलासा किया कि रोहित शर्मा से ओपनिंग कराने का निर्णय बहुत ज्यादा पहले ही ले लिया गया था, लेकिन केएल राहुल (KL Rahul) के बाहर होने के बाद वर्तमान परिस्थिति में ही इसे लागू किया जा सका।

भारतीय कैप्टन विराट कोहली (Virat Kohli) ने बोला कि रोहित शर्मा (Rohit Sharma) ने वनडे में जो कार्य किया है, अगर वे टेस्ट में भी टीम के लिए वैसा ही कर सके तो ये शानदार बात होगी। हमने पहले भी मयंक अग्रवाल, केएल राहुल व मुरली विजय को मौके दिए हैं, इसलिए अपने प्रदर्शन के आधार पर टीम में आने का मौका सभी के पास है। मगर हमारे सामने टेस्ट चैंपियनशिप (World Test Championship) भी है। ऐसे में जबकि रोहित शर्मा लंबे समय के लिए टेस्ट की योजनाओं में हैं तो इससे उन्हें वो ही लय हासिल करने का मौका मिलेगा जैसी कि वो चाहते हैं। रोहित ने पिछला टेस्ट दिसंबर 2018 में ऑस्ट्रेलिया के विरूद्ध एमसीजी में खेला था। उन्होंने अब तक टीम के लिए 27 टेस्ट में 39.62 की औसत से 1585 रन बनाए हैं।