वर्ल्ड कप में रोहित व वार्नर के अतिरिक्त बांग्लादेश के इस खिलाड़ी ने बनाए 600 से ज्यादा रन

वर्ल्ड कप में रोहित व वार्नर के अतिरिक्त बांग्लादेश के इस खिलाड़ी ने बनाए 600 से ज्यादा रन

आईसीसी क्रिकेट वर्ल्ड कप 2019 में टीम इंडिया का सफर समाप्त हो गया है. उसे पहले सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड के हाथों 18 रन से पराजय का सामना करना पड़ा था. उस मैच में टीम इंडिया के ओपनर रोहित शर्मा महज एक रन पर ही पवेलियन लौट गए थे. हालांकि, सारे टूर्नामेंट में उनका बल्ला खूब चला था. उन्होंने 9 मैच में 81.00 के औसत व 98.33 के स्ट्राइक रेट से 648 रन बनाए. इस दौरान उन्होंने 5 शतक लगाए व 67 चौके 14 छक्के जड़े. वे टूर्नामेंट में सबसे ज्यादा रन बनाने वालों की सूची में पहले नंबर पर हैं. दूसरे नंबर पर उनसे महज एक रन कम ऑस्ट्रेलियाई ओपनर डेविड वार्नर हैं.

Image result for टॉप स्कोर लिस्ट,  वर्ल्ड कप,

इस वर्ल्ड कप में रोहित व वार्नर के अतिरिक्त बांग्लादेश के शाकिब अल हसन ने भी 600 से ज्यादा रन बनाए. रोहित इस वर्ल्ड कप में टॉप स्कोरर की लिस्ट में पहले नंबर पर हैं, लेकिन वे महज 26 रन के अंतर से दुनिया कप के किसी भी एक सीजन में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज बनने से चूके गए. दुनिया कप के किसी एक सीजन में सबसे ज्यादा रन बनाने का रिकॉर्ड हिंदुस्तान के सचिन तेंदुलकर के नाम है. उन्होंने 2003 के दुनिया कप में 11 मैच में 61.18 के औसत से 673 रन बनाए थे. हालांकि, तब वे सिर्फ एक शतक ही मार पाए थे.उनके बाद ऑस्ट्रेलिया के मैथ्यू हेडन का नंबर है. हेडन ने 2007 के वर्ल्ड कप में 11 मैच में 73.22 के औसत से 659 रन बनाए थे. उस दौरान उन्होंने 3 शतक जड़े थे.

इस वर्ल्ड कप में अब सिर्फ फाइनल खेला जाना बाकी है. ऐसे में जो आंकड़े हैं, उनमें यह साफ हो गया है कि रोहित शर्मा ही टॉप स्कोरर की लिस्ट में पहले नंबर पर बने रहेंगे. उन्हें वार्नर पीछे छोड़ सकते थे, लेकिन ऑस्ट्रेलिया के वर्ल्ड कप के बाहर होने के साथ उनकी यह उम्मीद समाप्त हो गई. तीसरे नंबर पर शाकिब अल हसन (606 रन) हैं, लेकिन उनकी टीम भी वर्ल्ड कप से बाहर हो चुकी है. इंग्लैंड व न्यूजीलैंड की टीम फाइनल खेलेगी. इंग्लैंड के जो रूट 549 रन बनाकर चौथे नंबर पर हैं. ऐसे में वे शतक जड़ने पर ही रोहित का रिकॉर्ड तोड़ पाएंगे.न्यूजीलैंड के केन विलियम्सन के साथ भी यही स्थिति है. ये दोनों बल्लेबाज फॉर्म में हैं, उसे देखते हुए इनका शतक जड़ना असंभव नहीं है, लेकिन फाइनल के दबाव को देखते हुए यह सरल भी नहीं होगा.