नंदादेवी : पिथौरागढ़ से एयरफोर्स का हेलीकॉप्टर आईटीबीपी की टीम को लेकर यहाँ के लिए हुआ रवाना

नंदादेवी :  पिथौरागढ़ से एयरफोर्स का हेलीकॉप्टर आईटीबीपी की टीम को लेकर यहाँ के लिए हुआ रवाना

नंदादेवी में बर्फ में दबे विदेशी पर्वतारोहियों के मृत शरीर निकालने का अभियान आज प्रातः काल प्रारम्भ किया गया. पिथौरागढ़ से एयरफोर्स का हेलीकॉप्टर आईटीबीपी की टीम को लेकर रवाना हुआ. नंदादेवी बेस कैंप से हेलीकॉप्टर द्वारा आवश्यक सामग्री भी पहुंचाई जाएगी. आईटीबीपी के द्वितीय कमान ऑफिसर व एवरेस्ट विजेता रतन सिंह सोनाल के नेतृत्व में यह अभियान चल रहा है.

जारी है बचाव कार्य

जानकारी के अनुसार बता दें कि टीम लीडर रतन सिंह धारचूला निवासी हैं. नंदा देवी ईस्ट में पर्वतारोहण के दौरान एवलांच आने से बर्फ में दबे पर्वतारोहियों के शवों को निकालने के लिए सेना, आईटीबीपी व एसडीआरएफ का यह संयुक्त अभियान है. लापता पर्वतारोहियों के शवों को नंदा देवी चोटी से निकालने के बाद हेलीकॉप्टर से नैनीसैनी हवाई पट्टी लाया जाएगा.

डीएनए सैंपल भी लिए जाएंगे

इसी के साथ हवाई पट्टी में ही मृतकों का पंचनामा भरने की कार्रवाई होगी. इसके बाद शवों को संरक्षित रखने के लिए सुशीला तिवारी मेडिकल कॉलेज हल्द्वानी भेजा जाएगा. शवों के डीएनए सैंपल भी लिए जाएंगे. विदेशी पर्वतारोहियों के शवों को निकालने के बाद सुपुर्द करने के लिए जिला प्रशासन की ओर से संबंधित राष्ट्रों के दूतावासों को भी लेटर भेजा गया है.