हल्के फुल्के मजे के नाम पर शराब की शुरुआत कर लेते है तो दे रहे है इन गम्भीर बीमारियों को न्योता

हल्के फुल्के मजे के नाम पर शराब की शुरुआत कर लेते है तो दे रहे है इन गम्भीर बीमारियों को न्योता

शराब पीने की शुरुआत ज्यादातर शौक ओर मौजमस्ती से होती है। ज्यादातर देखने मे आया है कि दोस्तों को कंपनी देने के नाम पर, शादी पार्टियों के नाम पर या कभी हल्के फुल्के मजे के नाम पर शराब की शुरुआत हो जाती है।

लेकिन, अगर वक्त रहते इसको छोड़ दिया जाए तो ठीक है नहीं है तो यह पीने वाले के साथ-साथ परिवार को भी तबाह कर देती है।

  1. यू करें उपाय
  • अगर खुद पर विश्वास रखें और इरादा मजबूत कर लें तो यह पीने की आदत से पीछा छुड़ाया जा सकता है।
  • सबसे पहले मजबूत इरादा करना होगा कि मैं आगे से शराब नहीं पीउंगा।
  • इसके बाद नशा मुक्ति केंद्र पर जाकर इसको छोडऩे के उपाय और निश्चिम अवधि का कोर्स पूरा कर इसको छोड़ सकते हैं।
  • इसके अलावा अच्छे डॉक्टर से काउंसलिंग करके इसको छोडऩे के तरीके अपना सकते है।
  • बाजार में शराब छुड़ाने के लिए ऐसे कई उत्पाद उपलब्ध हैं जिनके नियमित इस्तेमाल से शराब की आदत धीरे धीरे छूट जाएगी।
  • च्युइंग गम, पॉवर ड्रिंक और ऐसे कई ड्रिंक बाजार में उपलब्ध हैं जो शराब छुड़ाने के लिए काम आते है।
  • धीरे धीरे यह चीजें आपका ध्यान शराब की तरफ से हटा देंगी और आपको इन चीजों से नफरत हो जाएगी।

2. इन बीमारियों से घेर लेती है शराब

शराब की लत धीरे धीरे कई बिमारियों से घेर लेती है, शराब से पाचनतंत्र पूरी तरह काम करना बंद कर देता है,शरीर में शराब घुलकर खून को बिल्कुल पानी कर देती है। बॉडी एक हद तक शराब को सहन कर सर्कुलेट करती है।

अल्कोहल की अत्यधिक मात्रा बढ़ने पर शरीर के सभी अंग धीरे धीरे काम करना बंद कर देते हैं। शराब का सबसे ज्यादा असर फेफड़े और यकत, किडनी पर होता है। शराब से यह अंग बिल्कुल डैमेज हो जाते हैं और पीने वाला जिंदगी के अंतिम छोर पर पहुंच जाता है।