झुर्रियों से परेशान हैं तो जरुर जानिए इन्हें दूर करने का तरीका

झुर्रियों से परेशान हैं तो जरुर जानिए इन्हें दूर करने का तरीका

जब भी आप तेवर दिखाते हैं या हैरान होते हैं या फिर आप दर्द से परेशान होते हैं तो यह आपके माथे पर दिखाई देने लगता है। जी हां, हम बात कर रहे हैं आपके चेहरे और शरीर के अन्य हिस्सों पर दिखाई देने वाली झुर्रियों (Wrinkles)की । झुर्रियां तीन प्रकार की होती हैं, जिसमें से पहली आपकी आंखों के कोनों पर दिखाई देती है। जब भी आप हंसती या हंसते हों तो कौवे के पैर जैसी आकृति दिखाई देती है। दूसरी आपके चेहरे पर दिखाई देने वाली झुर्रियां। यह तब दिखाई देती है जब आप कोई फेशियल एक्सप्रेशन देते हैं। यह सूरज के कारण क्षतिग्रस्त हुई स्किन, धूम्रपान या फिर खराब स्वास्थ्य के कारण हो सकती है। जब आप आराम कर रहे होते हैं तब इन्हें आसानी से देख सकते हैं। तीसरी और अंतिम प्रकार की झुर्रियां आपकी गर्दन पर दिखाई देती हैं। दरअसल उम्र ढलने के साथ यह बढ़ती चली जाती है। जब आपकी खाल लटकना शुरू होती है तब इस प्रकार की झुर्रियों को आसानी से देखा जा सकता है। ये खासकर महिलाओं की गर्दन के आस-पास दिखाई देती है। अगर आप भी चेहरे, माथे या गर्दन की झुर्रियों से परेशान हैं तो हम आपको इन्हें (Wrinkle Treatment)दूर करने का आसान तरीका बता रहे हैं।

चेहरे, गर्दन और माथे पर झुर्रियां आने का कारण

उम्र

उम्र के साथ-साथ झुर्रियों का आना प्राकृतिक है। त्वचा की कोशिकाएं धीरे-धीरे टूटती हैं और त्वचा की अंदरुनी परत पतली होती जाती है। आपकी त्वचा का प्रोटीन टूटना शुरू हो जाता है। इसमें पाया जाने वाला कोलेजन आपके त्वचा को स्ट्रेची बना देता है। कोलेजन आपकी बाहरी त्वचा को समर्थन करता है, जिसके कारण त्वचा ढीली हो जाती है।

धूम्रपान

उम्र के अलावा झुर्रियां आने का सबसे मजबूत कारण है धूम्रपान। तम्बाकू आपकी त्वचा की छोटी रक्त वाहिकाओं को संकरा बना देता है, जो ऑक्सीजन जैसे आवश्यक पोषक तत्वों के प्रवाह को कम कर देते है। यह उस दर को भी धीमा करता है जिस पर आपका शरीर कोलेजन बनाता है। धुएं को खींचने के लिए होंठों की बार-बार झुकाव से मुंह के चारों ओर अतिरिक्त रेखाएं हो सकती हैं। जैसा कि सूरज की यूवी किरणों के संपर्क में आने से होता है। यह आपकी त्वचा पर रेखाओं और झुर्रियों को पनपने का मौका दे देता है।

झुर्रियों से बचाव का तरीका

बार-बार एक ही फेशियल एक्सप्रेशन न दें

धूप में बाहर घूमना, या कोई ऐसा फेशियल एक्सप्रेशन जो आप बार-बार बनाते हों तो सावधान हो जाइए। ऐसा करना आपके चेहरे के कुछ हिस्सों में झुर्रियां पैदा कर सकता है। अगर आप बहुत ज्यादा बाहर घूमते हैं, तो धूप का चश्मा जरूर पहनें। ये आपके आंखों के कोनों में झुर्रियों को आने से तो रोकता ही है और साथ ही उन ।

अच्छी नींद लें

अच्छी नींद लेना कितना जरूरी है यह बात तो सभी जानते हैं लेकिन इसका असर आपके चेहरे पर झुर्रियों का कारण बन सकता है। नियमित रूप से कम नींद लेना आपकी और उम्र से पहले बूढ़ा बन सकता है। चूंकि अच्छी नींद की कमी आपके शरीर को तनाव हार्मोन कोर्टिसोल की अधिक मात्रा में रिलीज करती है, जो कोलेजन को तोड़ती है, जिसके कारण आपकी त्वचा पर झुर्रियां होती हैं। अगर आप रात को पीठ के बल अच्छी तरह सोते हैं तो आपके लिए बेहतर हो सकता है क्योंकि एक तरफ या पेट के बल सोने से चेहरे पर लाइनें और झुर्रियां आना शुरू हो जाती है।

स्किन केयर

अगर आपको बहुत ज्यादा पसीना आता है तो दिन में कई बार अपने चेहरे को धीरे-धीरे साफ करें। ज्यादा ताकत लाने से आपके फेस या अन्य हिस्सों पर छिलने या जलन हो सकती है। आप बिना अल्कोहल वाले एक हल्के क्लींजर का प्रयोग कर सकते हैं क्योंकि ये आपके चेहरे पर जलन, कठोर और रुखा बना सकता है। त्वचा को मॉस्चराइज करने के लिए दिन में दो बार एक क्रीम का उपयोग करें। अगर आप घर से बाहर हैं (सुबह 10 बजे से दोपहर 2 बजे के बीच) तो यूवी किरणों से बचने के लिए टोपी, कपड़े और धूप के चश्मा जरूर लगाएं। इसके अलावा सनस्क्रीन एसपीएफ़ 30 या अधिक का उपयोग कर सकते हैं।

झुर्रियों के उपचार का तरीका

विटामिन ए से बनी स्किन क्रीम, जैसे कि टैरेटिन (रेटिन-ए) झुर्रियों, फीकी और रूखी त्वचा को कम व ठीक करने का काम करती है। लेकिन ये आपकी त्वचा को अधिक आसानी से जला देती हैं, इसलिए अपनी सुरक्षा के लिए कदम उठाएं। आपका डॉक्टर आपकी त्वचा को कैमिकल पील्स, सैंडिंग (डर्माब्रेशन), या लेजर के साथ फिर से ठीक कर सकता है। त्वचा को फिर से ठीक करने के लिए झुर्रियों में इंजेक्शन लगाकर उसमें कसावट लाना या मांसपेशियों को आराम देने के लिए टॉक्सीन (बोटॉक्स, डायस्पोर्ट, एक्सोमिन) लगाना शामिल है।