बीजेपी व टीएमसी कार्यकर्ताओं के बीच हुई झड़प, चार लोगों की मौत दोनों ही पार्टी के सूत्रों ने किया ये बड़ा दावा

 बीजेपी व टीएमसी कार्यकर्ताओं के बीच हुई झड़प, चार लोगों की मौत दोनों ही पार्टी के सूत्रों ने  किया ये बड़ा दावा

लोकसभा चुनाव खत्म होने के बाद भी पश्चिम बंगाल में हिंसा जारी है. शनिवार की शाम 24 परगना जिले के नजत इलाके में बीजेपी व टीएमसी कार्यकर्ताओं के बीच हुई झड़प में चार लोगों की मृत्यु हो गई, जबकि तीन लोग घायल हुए हैं. दोनों ही पार्टी के सूत्रों ने इस बात का दावा किया है.



फिलहाल स्तिथि नियंत्रण में

सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार हालांकि पुलिस ने इन मौतों पर कुछ भी कहने से मना कर दिया है. पुलिस का बोलना है कि स्थिति को नियंत्रित करने के लिए बड़ी संख्या पुलिस दल को घटनास्थल पर भेजा गया था. बीजेपी के सूत्रों ने दावा किया है कि संबंधित इलाके से पार्टी के झंडे हटाने पर हिंसा की आरंभ हुई. बीजेपी नेता ने बताया कि उनकी पार्टी के तीन कार्यकर्ता की उस समय गोली मारकर मर्डर कर दी गई, जब वह टीएमसी कार्यकर्ताओं को बीजेपी के झंडे हटाने से रोक रहे थे.

कई कार्यकर्ताओं की मौत

इसी के साथ भाजपा नेता ने बताया, "हमें अपने तीन कार्यकर्ताओं का मृत शरीर मिला है. हमने सुना है कि दो व कार्यकर्ताओं की भी मृत्यु हो गई है लेकिन अभी उनके मृत शरीर नहीं मिले हैं. वो हमारी पार्टी के झंडे व पोस्टर हटाने की प्रयास कर रहे थे, जब हमने विरोध किया तो हमारे कार्यकर्ताओं को गोली मार दी गई। बीजेपी के वरिष्ठ नेता मुकुल रॉय का बोलना है कि पार्टी इस घटना के बारे में केंद्रीय मंत्री अमित शाह को बताएगी. वहीं टीएमसी भी दावा कर रही है कि उसके एक समर्थक की मृत्यु हो गई है.