आईसीसी क्रिकेट वर्ल्ड कप के 22वें मैच में हिंदुस्तान व पाक के बीच अहम मुक़ाबला 

आईसीसी क्रिकेट वर्ल्ड कप के 22वें मैच में हिंदुस्तान व पाक के बीच अहम मुक़ाबला 

आईसीसी क्रिकेट वर्ल्ड कप के 22वें मैच में हिंदुस्तान व पाक के बीच मुक़ाबला होनी है। इस मैच पर हिंदुस्तान व पाक ही नहीं बल्कि पूरी संसार की नजरें टिकी होती हैं। दरअसल ये मैच खेल की तरह नहीं एक जंग की तरह लड़ा जाता है। दोनों ही टीमों के कैप्टन अपने-अपने ढंग से खिलाड़ियों को शानदार प्रदर्शन करने के लिए मोटिवेट करते हैं। भारतीय टीम के कैप्टन विराट कोहली तो अकसर मैदान पर बहुत ज्यादा जोशीले अंदाज में दिखाई देते हैं, वहीं पाक कैप्टन सरफराज अहमद भी कुछ कम नहीं हैं। सरफराज कैप्टन होने के साथ-साथ एक विकेटकीपर भी हैं जो विकेट के पीछे से अपने गेंदबाज व फील्डर्स को कभी गाली तो कभी अजीबोगरीब बातों से टीम का हौसला बढ़ाते दिखाई देते हैं।

Image result for सरफराज अहमद इस

सरफराज अहमद इस तरह बढ़ाते हैं हौसला

विकेट के पीछे से एम एस धोनी की बातें अकसर सोशल मीडिया पर छाई रहती हैं लेकिन पाक के कैप्टन सरफराज अहमद भी इस मुद्दे में कुछ कम नहीं हैं। सरफराज अहमद की लहजा देसी है, वो उर्दू में अकसर खिलाड़ियों को कुछ ना कुछ कहते दिखाई देते हैं। चैंपियंस ट्रॉफी के दौरान सरफराज अहमद ने अपने तेज गेंदबाज हसन अली को झाड़ लगाई थी।हिंदुस्तान के विरूद्ध मुकाबले में हसन अली की फील्डिंग कुछ खास नहीं दिख रही थी, इस पर सरफराज कहते दिखे- 'शांत रहना छोड़ देभाग'। जब रुमान रईस ने सरफराज अहमद की सलाह नहीं मानी तो उन्होंने कहा, 'कमॉन रूमी, हद कर दी यार तूनेचार गेंद एक ही स्थान पर। ' इंग्लैंड के विरूद्ध चैंपियंस ट्रॉफी 2017 के मुकाबले में सरफराज अहमद बीच मैदान पर उसे डरपोक टीम कहते दिखे थे।

गुरुवार को ऑस्ट्रेलिया के विरूद्ध मुकाबले में भी सरफराज अहमद ने वहाब रियाज, शाहीन अफरीदी को झाड़ लगाई लेकिन टीम उनकी इन बातों का बुरा नहीं मानती। पाक के ऑलराउंडर इमाद वसीम का मानना है कि 'आपको सरफराज की बातों का चिल्लाना बुरा नहीं लगेगा क्योंकि वो टीम की भलाई के लिए ही बोलते हैं। '

अच्छे सिंगर हैं सरफराज अहमद
सरफराज अहमद के पिता धार्मिक इंसान हैं, उनकी स्टेशनरी की दुकान है। 10 वर्ष की आयु में सरफराज को कुरान याद हो गई थी। सरफराज अहमद की आवाज भी अच्छी है वो महफिलों में गाते भी हैं। साथ ही सरफराज हिंदी फिल्मों के गाने भी गुनगुनाते रहते हैं।

सरफराज अहमद को स्ट्रीट स्मार्ट क्रिकेटर बोला जाता है, हालांकि उनकी कप्तानी को उतना भारी भरकम नहीं माना जाता। जिस तरह विराट कोहली की कप्तानी पर सवाल उठाए जाते हैं कुछ ऐसा ही हाल सरफराज अहमद का है, उनकी रणनीतियों को अकसर निर्बल बताया जाता है। आईसीसी क्रिकेट वर्ल्ड कप में वेस्टइंडीज व ऑस्ट्रेलिया से पराजय के बाद सरफराज पर दबाव भी है। अब तो हिंदुस्तान के विरूद्ध मुकाबला है, देखना ये है कि सरफराज की रणनीति क्या होती है?