अब ड्रोन से घुसपैठ कर रहा पाकिस्तान, सुरक्षाबलों ने खदेड़ा

अब ड्रोन से घुसपैठ कर रहा पाकिस्तान, सुरक्षाबलों ने खदेड़ा

जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 समाप्त होने के बाद अपनी कई नापाक साजिशों में नाकाम हो चुके पाक ने अब घुसपैठ का नया उपाय अपनाया है. पाकिस्तानी सेना अब ड्रोन्स के जरिए इंटरनेशनल बॉर्डर  एलओसी से कश्मीर में घुसपैठ की प्रयास करने में जुटी है. शुक्रवार शाम को भी पाक की तरफ से कश्मीर के सांबा सेक्टर में दो ड्रोन्स आए. हिंदुस्तान की बॉर्डर सिक्योरिटी फोर्स ने इन्हें देखकर फायरिंग भी की.

बीएसएफ के सूत्रों के मुताबिक, यह घटना शाम निकट 6 बजे की है. पाक के एक ड्रोन को भारतीय क्षेत्र में 500 से 700 मीटर अंदर उड़ते देखा गया. ये ड्रोन चक फकीरा बॉर्डर आउटपोस्ट के समीप भारतीय एयरस्पेस में उपस्थित थे. तब इस आउटपोस्ट को 48 बीएसएफ हेडक्वार्टर पंजटीला सांबा यूनिट संभाल रही थी. बताया गया है कि ड्रोन पाक की चमन खुर्द पोस्ट से आया, जो कि बॉर्डर के उस पार चक फकीरा के अच्छा सामने उपस्थित है.

बताया गया है कि बॉर्डर पोस्ट पर तैनात जवानों ने ड्रोन पर 80-90 राउंड्स फायरिंग की, पर वह पाक लौटने में सफल हो गया. एक दूसरे ड्रोन को भारतीय एयरस्पेस में 700 मीटर अंदर पाया गया. यह भी जमीन से एक किमी ऊपर चक फकीरा बॉर्डर पोस्ट के पास ही उड़ रहा था  फायरिंग के बाद निकल भागने में सफल रहा.

पिछले महीने भी ड्रोन से हुई थी घुसपैठ: बता दें कि पिछले महीने ही जम्मू और कश्मीर के केरन सेक्टर में नियंत्रण रेखा के पास इंडियन आर्मी के जवानों ने एक पाकिस्तानी सेना के कॉडकॉप्टर​​ को मार गिराया. यह ड्रोन चीनी कंपनी डीजेआई माविक-2 प्रो मॉडल का था. यह ड्रोन निकट एक घंटे से सीमा के आसपास मंडरा रहा था. गोली लगते ही क्वॉडकॉप्टर ​​70 मीटर हिंदुस्तान की तरफ केरन सेक्टर में गिरा.​ यह क्वॉडकॉप्टर पाकिस्‍तानी सेना के स्‍पेशल सर्विस ग्रुप (SSG) का हिस्‍सा था.

पाकिस्तान भारतीय क्षेत्र की जासूसी करने के लिए अब ड्रोन्स का प्रयोग कर रहा है. साथ ही इनके जरिए वह आतंकवादियों को हथियार  महत्वपूर्ण सामान पहुंचाने की प्रयास करता है. सीमा पार से​ ​आतंकवादियों के हैंडलर्स ​को हथियार या अन्य सामान​ भेजने के लिए ​ड्रोन का प्रयोग करना नया उपाय है. ​इससे पहले ​पाकिस्‍तान ​सीमा पार ​से ​​आतंकियों को हथियार पहुंचाने के लिए​ ​अनमैन्‍ड एरियल वीकल्‍स का इस्‍तेमाल ​करता रहा है. ​​


इस तट पर सोने के मोती ढूंढने के लिए जुट रही हजारों की भीड़, लोगों के आये अच्छे दिन

इस तट पर सोने के मोती ढूंढने के लिए जुट रही हजारों की भीड़, लोगों के आये अच्छे दिन

नई दिल्ली: निवार तूफान ने तेज रफ्तार हवाओं के साथ आते वक्त कई परिवारों के आशियाने को उजाड़कर उनसे उनकी खुशियां छीन ली थी। लेकिन वहीं निवार जाते-जाते तमाम परिवारों के चेहरे पर ख़ुशी के भाव बिखेरता हुआ चला गया।

मामला कुछ यूं है कि आंध्र प्रदेश के पूर्वी गोदावरी जिले में एक चक्रवात तूफान निवार के गुजरने के बाद वहां समुद्र तट से आए मलबों में गुरुवार को सोने के मोतियों को ढूंढने के लिए स्थानीय लोगों की भीड़ जमा हो गई।

शनिवार को कथित रूप से कई लोग सोने के मोतियों को चुनने के लिए पूर्वी गोदावरी में समुद्र तट पर पहुंचे। यहां माना जा रहा है कि चक्रवात निवार के कारण हाई टाइड की वजह से यह पूरा इलाका समुद्र की राख और पानी से धुल गया है।

हाई टाइड की वजह से  मंदिर में मौजूद सोने के मोती किनारे पर आ गए
स्थानीय किंवदंती के अनुसार, प्राचीन मंदिर समय के साथ समुद्र के नीचे डूब गए और चक्रवात निवार के भूस्खलन के बाद हाई टाइड के दौरान उस मंदिर में मौजूद सोने के मोती किनारे पर आ गए।

पूर्वी गोदावरी जिले के कोथपल्ली मंडल के तहत गांवों में कई मछुआरों के परिवार सोने को ढूंढने के लिए इकट्ठा हो गए। कई लोगों ने कथित तौर पर पीली धातु पाई है, हालांकि, अभी तक इस खोज की कोई पुष्टि नहीं हुई है।

तेज हवाओं के बावजूद, महिलाएं और  बच्चे समुद्र किनारे सोने की तलाश में मलबों को टटोलते नजर आए। मोती ढूंढने का यह काम सुबह 6 बजे शुरू हुआ और शाम तक चला। मछुआरों का कहना है कि प्रत्येक चक्रवात ‘सोने’ और अन्य कीमती सामान को किनारे पर लाता है।

मलबों में सोना और मोतियों को तलाशने का काम जारी है। यहां पर लोगों की धीरे-धीरे भारी भीड़ जुटना शुरू हो गई है। लोगों को उम्मीद हैं कि निवार तूफान की वजह से जिन परिवारों की खुशियां छीन गई थी वो सोना और मोतियों के मिलने के बाद से दूर हो जाएगी।


बदला बैंक का नियम: खाताधारक जरूर जान लें, ये बड़ी खबर       पायलट का लाइसेंस हासिल करने वाले पहले भारतीय, इसलिए करते हैं याद       चीन की दिक्कतें अब बढ़ी: नेपाल ने उठाया बड़ा कदम, दिया ये जोरदार झटका!       इस तट पर सोने के मोती ढूंढने के लिए जुट रही हजारों की भीड़, लोगों के आये अच्छे दिन       कृषि कानून से किसानों को उनके अधिकार मिले : PM मोदी       Bank Holidays December 2020: दिसंबर में इतने दिन बैंक रहेंगे बंद       3-4 हफ्तों में पूरी दिल्ली को लग सकता है Corona का टीका       बेहद खतरनाक होता हैं हार्ट अटैक का दर्द       हैदराबाद: ओवैसी के गढ़ में योगी आदित्याथ का रोड शो       अंडे खाने के फायदे, जिसे जानकर तुरंत खाना शुरू कर देंगे आप..       कोरोना के साथ अन्य मौसमी बीमारियों के संक्रमण को लेकर जारी हुए दिशानिर्देशों को जानें       छोटे कर्जदारों के लिए बड़ा झटका       बच्चों के लिए क्यों जरूरी है मां का दूध, जरूर जानें       जानिए, सेहत के लिए कितने फायदेमंद है ये पौधे       गठिया का अचूक इलाज, जानें क्यों आपके लिए जरूर हैं ये फूड       अखरोट खाने के यह फायदे जानकर हो जाएंगे हैरान       हर वक्त थकान महसूस करते है, तो आयरन से भरपूर फूड को करें अपनी डाइट में शामिल       आंवलें का जूस पीने से हो सकते हैं कई फायदे       विटामिन C से भरपूर हैं ये सब्जियां, सेहत के लिए भी फायदेमंद       आखिर क्यों हाथ साफ करने के लिए सैनिटाइजर से बेहतर है साबुन