बिहार में 7200 करोड़ की लागत से बनेगा पहला फोरलेन एक्सप्रेस-वे, चार घंटे में तय होगी पटना की दूरी

बिहार में 7200 करोड़ की लागत से बनेगा पहला फोरलेन एक्सप्रेस-वे, चार घंटे में तय होगी पटना की दूरी

बिहार का पहला फोरलेन ग्रीनफील्ड एक्सप्रेस-वे औरंगाबाद से पटना होकर दरभंगा तक बनेगा. इसके बनने से राज्य के किसी भी हिस्से से पटना चार घंटे में पहुंचा जा सकेगा. करीब 7200 करोड़ रुपये की लागत से 205 किमी की लंबाई में इस एक्सप्रेस-वे को बनाने के लिए औरंगाबाद से पटना के बीच भूमि अधिग्रहण की प्रक्रिया चल रही है. इसका निर्माण मार्च 2021 तक शुरू होने और करीब 30 महीने में पूरा होने की संभावना है.

80 फीसदी नयी सड़क होगी

उत्तर और दक्षिण बिहार को जोड़ने वाली इस सड़क से पटना का गया और दरभंगा एयरपोर्ट से सीधा संपर्क हो जायेगा. साथ ही इसका संपर्क जीटी रोड से भी हो जायेगा. सड़क बनाने की जिम्मेदारी एनएचएआइ को दी गयी है. सूत्रों के मुताबिक भारतमाला योजना के तहत बनने वाली इस सड़क में 80 फीसदी ग्रीनफील्ड रखा गया है. ग्रीन फील्ड का अर्थ है कि इस कॉरिडोर में 80 फीसदी नयी सड़क होगी. बीते दिनों एनएचएआइ की भू-अर्जन समिति की बैठक में इस सड़क को औरंगाबाद से जयनगर तक करीब 271 किमी की लंबाई में बनाने का प्रस्ताव था. समिति ने फिलहाल औरंगाबाद से दरभंगा तक के लिए इस सड़क की मंजूरी दी है. इसके बाद अगले चरण में इसका विस्तार दरभंगा से जयनगर तक किया जायेगा.

इन रास्तों से गुजरेगी सड़क

औरंगाबाद जिले के मदनपुर से शुरू होने वाली यह फोरलेन सड़क गया एयरपोर्ट के बगल से होते हुए जीटी रोड को भी कनेक्टिविटी देगी. गया से यह जहानाबाद और नालंदा के बॉर्डर से गुजरते हुए पटना में कच्ची दरगाह आयेगी और वहां से बिदुपुर के बीच बन रहे सिक्स लेन पुल से चकसिकंदर, महुआ के पूरब होते हुए ताजपुर से कल्याणपुर, समस्तीपुर तक जायेगी. वहां से दरभंगा एयरपोर्ट के समीप इस्ट-वेस्ट कॉरिडोर तक पहुंचेगी.

चल रही है जमीन अधिग्रहण की प्रक्रिया

एनएचएआइ बिहार के क्षेत्रीय पदाधिकारी लेफ्टिनेंट कर्नल चंदन वत्स ने कहा कि यह सड़क बिहार के लिए बहुउपयोगी साबित होगी. फिलहाल औरंगाबाद से पटना के बीच तेजी से जमीन अधिग्रहण की प्रक्रिया चल रही है जो जनवरी तक पूरी होने की संभावना है. इसके बाद पहले चरण में औरंगाबाद से पटना के बीच निर्माण कार्य के लिए टेंडर आमंत्रित किया जायेगा. मार्च 2021 से पहले चरण का निर्माण शुरू होने की संभावना है. इसके बाद पटना से दरभंगा के बीच भी भूमि अधिग्रहण की प्रक्रिया मार्च, 2021 तक पूरा करने का प्रयास किया जा रहा है.


Cyclone Nivar LIVE: पुडुचेरी में लगाई गई धारा 144

Cyclone Nivar LIVE: पुडुचेरी में लगाई गई धारा 144
नई दिल्ली: बंगाल की खाड़ी के ऊपर बना कम दबाव का क्षेत्र आज चक्रवाती तूफान (Cyclonic Storm) में बदल गया निवार (Cyclone Nivar) नाम का ये तूफान इस वर्ष का चौथा चक्रवाती तूफान है इससे पहले अम्फन, निसर्ग और गति ने दस्तक दी थी सोमालिया से प्रारम्भ हुआ गति तूफान का खतरा दो दिन पहले ही टला है लेकिन इस समय हर किसी की निगाहें 'निवार' पर टिकी है तमिलनाडु और पुडुचेरी (Tamilnadu and Puducherry) में बारिश का दौर प्रारम्भ हो गया है चेन्नई में आज लगातार भारी बारिश हो रही है मौसम विभाग के अनुसार आज बारिश के गति में और तेजी आएगी
इस चक्रवाती तूफान के ताजा अपडेट के लिए हमारे साथ बने रहे

अलर्ट जारी: चक्रवाती तूफान को देखते हुए पुडुचेरी में धारा 144 लगाई गई है जबकि तमिलनाडु में भी रेड अलर्ट घोषित कर दिया गया है तूफान का सबसे अधिक नुकसान चेन्नई और उसके इर्द-गिर्द के इलाके में हो सकता है
PM मोदी ने की बात: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को तमिलनाडु के सीएम के पलानीस्वामी और पुडुचेरी के सीएम वी नारायणसामी से बात कर चक्रवात ‘निवार’ से निपटने की तैयारियों की समीक्षा की और उन्हें केन्द्र की ओर से हरसंभव सहायता का आश्वासन दिया हवा की रफ्तार- मौसम विभाग के अनुसार इस दौरान हवा की गति 100 से 120 किलोमीटर प्रति घंटा रह सकती है ऐसे में तमिलनाडु और पुडुचेरी के कई इलाकों में अलर्ट जारी कर दिया गया है मछुआरों को समुद्र में नहीं जाने की सलाह दी गई है
कहां पहुंचा ये तूफान: बंगाल की खाड़ी उठा ये तूफान लगातार आगे की तरफ बढ़ रहा है वैसे पुडुचेरी से ये तूफान 410 किलोमीटर दक्षिण में है जबकि चेन्नई से दक्षिण पूर्व में 450 किलोमीटर दूर है तूफान उत्तर-पश्चिमी दिशा में बढ़ते हुए तमिलनाडु के तटों की ओर जाएगा बारिश का दौर: चेन्नई में कल यानी सोमवार शाम से ही बारिश हो रही है अब तक वहां 71 मिलीमीटर बारिश रिकॉर्ड की गई है तमिलनाडु, केरल, तेलंगाना और ओडिशा के कई इलाकों में भी हल्की बारिश हो रही है

NDRF तैनात: राष्ट्रीय आपदा राहत बल की 6 टीमों को तमिलनाडु में राहत और बचाव कार्यों के लिए पहले से तैनात कर दिया गया है

केंद्र की नजर: कैबिनेट सचिव राजीव गौबा की अध्यक्षता वाली राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन समिति ने सोमवार को मीटिंग की तूफान के मद्देनजर तरीकों पर विचार करने के साथ ही संबंधित प्रदेश सरकारों समेत अनेक पक्षों को प्रभावित क्षेत्रों में किसी की जान नहीं जाने देने और सामान्य स्थिति जल्द बहाल करने का आदेश दिया

सलमान के बैंक एकाउंट पर चलती है पापा सलीम खान की दबंगई       पत्नी, बेटे, बहू और पोते की मर्डर कर भागा प्रॉपर्टी डीलर, पुलिस ने ऐसे किया अरेस्ट       पहले पत्नी और दो बच्चों की मर्डर की फिर किया ये काम       95 प्रतिशत से ज्यादा असरदार है रूस की स्पुतनिक वैक्सीन       कोरोना संकट के बीच पाकिस्तान में कट्टरपंथी मौलाना के जनाजे में उमड़े लाखों लोग       कोरोना के चलते आपकी खांसी को झट से दूर कर देंगे ये उपाय       स्वास्थ्य के साथ ही कामेच्छा और स्पर्म काउंट बढ़ाने में भी फायदेमंद है कटहल का सेवन       कैंसर जैसी खतरनाक बीमारी में भी फायदेमंद है अखरोट       हड्डियों में दर्द की समस्या से छुटकारा दिलाता है टमाटर का सेवन, जानें       गर्भावस्था में महिलाओं नहीं करना चाहिए इस दवाई का सेवन       पती-पत्नी अपने रिश्ते को इन बातों का ध्यान रखकर बना सकते हैं मजबूत       पीएम मोदी के खिलाफ नामांकन करने वाले बीएसएफ जवान तेज बहादुर की याचिका हुई खारिज       Cyclone Nivar LIVE: पुडुचेरी में लगाई गई धारा 144       अमित शाह ने कोविड-19 पर समीक्षा मीटिंग में मुख्यमंत्रियों के लिए 3 लक्ष्य किए तय       क्या 1 दिसंबर से बंद हो जाएंगी सारी ट्रेनें? जानें       सपा सरकार में कैबिनेट मंत्री रहे यासिर शाह की तबियत बिगड़ी       Vivo V20 Pro: अबतक का सबसे पतला 5G स्मार्टफ़ोन, जानें कीमत       हैकर्स ऐसे हैक कर रहे हैं WhatsApp अकाउंट, ऐसे करें बचाव       लाॅन्च होने जा रहा POCO M3 स्मार्टफोन, फीचर्स है दमदार       Micromax का शानदार स्मार्टफोन, आज से शुरू होगी बिक्री