Delhi Election/Chunav Results 2020: विधानसभा चुनाव से तुलना करें तो युवाओं के बीच में आप को लेकर क्रेज बढ़ा

Delhi Election/Chunav Results 2020: विधानसभा चुनाव से तुलना करें तो युवाओं के बीच में आप को लेकर क्रेज बढ़ा

Delhi Election/Chunav Results 2020: दिल्ली विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी को प्रचंड बहुमत मिलने के पीछे कई कारक है. इनमें से एक युवाओं का साथ मिलना भी है. दिल्ली में लोकनीति के चुनाव-पूर्व सर्वेक्षण से यह स्पष्ट होता है.

सबसे कम आयु के मतदाताओं के समूह 18-25 वर्ष की आयु के हर पांच में से तीन या करीब 59% ने आप को वोट किया. वहीं बीजेपी को तीन में से एक युवा मतदाता या 33 फीसदी का साथ मिला.

2015 के विधानसभा चुनाव से तुलना करें तो युवाओं के बीच में आप को लेकर क्रेज बढ़ा है व 2 फीसदी की वृद्धि हुई है.इसके अतिरिक्त बीजेपी की तुलना में आप को युवा मतदाताओं के समूह में 26 अंकों की बढ़त दिखाई देती है. इन सब के बावजूद बीजेपी को लोकसभा 2019 में युवा मतदाताओं का भारी समर्थन मिला है.

इस चुनाव में 18 से 22 वर्ष की आयु के युवा मतदाताओं के बीच बीजेपी का वोट शेयर 4 अंक गिरकर 29 फीसदी पहुंच गया है. इसके साथ ही पहली बार वोट देने वाली स्त्रियों के बीच भी आप का असर बढ़ा है. इस आयु वर्ग की 68 फीसदी स्त्रियों ने आप को वोट दिया.

26 वर्ष से 35 आयु समूह के मतदाताओं का 54 फीसदी वोट आप को व 40 फीसदी बीजेपी को मिला. दिलचस्प बात यह है कि इस आयु वर्ग के 60 फीसदी वोटर 2015 के चुनाव में आप के साथ थे व बीजेपी 29 अंक पीछे थी.

इस बार के चुनाव में शहर में युवा व कॉलेज के विद्यार्थियों के कई विरोध भी देखे गए. हमारे सर्वेक्षण में यह पूछे जाने पर कि क्या वे विरोध करने वाले विद्यार्थियों की पुलिस से पिटाई को ठीक या गलत मानते हैं? 18 से 25 वर्ष के मतदाताओं के करीब दो-तिहाई या 64 फीसदी लोगों ने गलत बताया. जामिया में पुलिस के प्रवेश को 71 फीसदी ने गलत बताया.

युवा ब्रिगेड यह भी चाहती है कि दिल्ली पुलिस दिल्ली सरकार के तहत हो. ऐसा मानने वाले युवाओं की संख्या 52 फीसदी थी. इस सर्वेक्षण में जेएनयू में हॉस्टल शुल्क में बढ़ोतरी को लेकर विद्यार्थियों के आंदोलन को भी बहुत ज्यादा समर्थन मिला. संक्षेप में कहें तो स्त्रियों की तरह युवा ने आप की शानदार जीत को संभव बनाया.