अखिलेश ने किया सम्मानित, बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ की ब्रांड एम्बेसेडर अनुज्ञा मिश्रा

अखिलेश ने किया सम्मानित, बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ की ब्रांड एम्बेसेडर अनुज्ञा मिश्रा

शाहजहांपुर: एमए की एक ऐसी छात्रा जिसने तीन साल तक जिला प्रशासन से लेकर समाज में रहने वाली कमजोर महिलाओं और छात्राओं को जागरूक करने का काम किया। महज 20 साल की उम्र में शाहजहांपुर की पहली शक्ति परी और उसके ‘बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ’ की ब्रांड एम्बेसेडर बनी और अब पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश ने लखनऊ में राष्ट्रीय आदर्श युवा सम्मान देकर सम्मानित किया। उत्तर प्रदेश के 100 युवाओं को सम्मानित किया गया है, जिन्होंने अलग अलग क्षेत्र में लोगों का मार्गदर्शन किया है। उन 100 लोगों में से 3 युवा शाहजहांपुर के भी हैं।

सम्मानित होकर उनका हौसला और बढ़ गया
दरअसल, लखनऊ में समाजवादी पार्टी कार्यालय में बीते 19 जनवरी को राष्ट्रीय युवा शक्ति सगंठन का एक कार्यक्रम था, जिसमें पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को मुख्य अतिथि के रूप में बुलाया गया था। संगठन ने अलग अलग क्षेत्रों में लोगों का मार्गदर्शन करने वाले उत्तर प्रदेश के 100 युवा चेहरों को पूर्व मुख्यमंत्री के हाथ से राष्ट्रीय युवा सम्मान देकर सम्मानित कराया। सम्मानित होने वालों में शाहजहांपुर के 3 युवा शामिल थे, जिनमें 2 छात्राएं और एक छात्र शामिल हैं। मुख्यमंत्री के हाथ से सम्मानित होने के बाद तीनों युवा बेहद खुश हैं। सम्मानित होकर उनका हौसला और बढ़ गया।

“बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ” का ब्रांड एम्बेसेडर के खिताब से नवाजा गया
हम बात कर रहे हैं शाहजहांपुर के चौक इलाके की रहने वाली एमए की छात्रा अनुज्ञा मिश्रा की। अनुज्ञा मिश्रा की उम्र तो महज 20 साल है, लेकिन वह किसी पहचान की मोहताज नही है। छात्रा को सिविल पुलिस सर्विसेज का ज्यादा शौक रहा है। इसलिए समाज से जुड़कर और समाज के लिए कुछ बेहतर करने का जज्बा हमेशा कुछ कर गुजरने का जुनून ने छात्रा को कई उपलब्धियां हासिल करा दी। सबसे पहले उनको 2017 में पावर एंजिल 1090 की पहली शक्ति परी बनने का खिताब हासिल हुआ, उसके बाद उनकी मेहनत और लगन देखकर बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ का ब्रांड एम्बेसेडर के खिताब से नवाजा गया

छात्रा को राष्ट्रीय आदर्श युवा सम्मान से सम्मानित किया
अब शहर में जागरूकता अभियान को लेकर कोई भी कार्यक्रम होता है, और अगर उस कार्यक्रम में अनुज्ञा मिश्रा न हो तो, ऐसा मुमकिन नही है। छात्रा की मेनहत लगन और लोगों को जागरूक करने का जज्बा देखकर ही लखनऊ सपा कार्यालय पर राष्ट्रीय युवा शक्ति सगंठन के कार्यक्रम में मुख्य अतिथि पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने छात्रा को राष्ट्रीय आदर्श युवा सम्मान से सम्मानित किया। छात्रा अनुज्ञा समेत तीनो युवा बेहद खुश हैं।

सम्मानित होने वाली छात्रा अनुज्ञा मिश्रा ने newstrack.com से बातचीत में बताया कि, राष्ट्रीय युवा शक्ति सगंठन की तरफ से जब फोन आया कि, सम्मानित करना चाहते है, तब बहुत खुशी हुई थी, लेकिन जब ये पता चला कि, सम्मानित खुद पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव करेंगे तो खुशी दोगुनी हो गई। लखनऊ में जब पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने सम्मानित किया था, मेरे लिए सबसे ज्यादा खुशी का पल था। अनुज्ञा बताती है कि, अखिलेश यादव ने अपनी सरकार में पावर एंजिल 1090 शुरू किया था।

तब जनपद की पहली शक्ति बनने का मुकाम हासिल हुआ था। जब उनको बताया तो, अखिलेश यादव बहुत खुश हुए और उन्होंने वादा किया था कि, जल्द ही वह सांसद व पत्नी डिंपल यादव से मिलवाएंगे। उन्होंने मोबाईल नंबर कार्यालय में नोट कराने की बात की थी। अनुज्ञा को अब इंतजार है कि, पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने वादा किया है,अब वादे को पूरा करने का बेसब्री से इंतजार है।


जिनके निधन पर आज रो रहा देश का हर किसान, जानिए कौन हैं दातार सिंह

जिनके निधन पर आज रो रहा देश का हर किसान, जानिए कौन हैं दातार सिंह

अमृतसर: केंद्र सरकार के कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का आंदोलन आज भी जारी है। किसान संगठनों के नेताओं का कहना है जब तक सरकार उनकी मांगे पूरी नहीं कर देती उनका आंदोलन ऐसे ही आगे भी चलता रहेगा।

सोमवार को पंजाब के अमृतसर से एक ऐसी खबर आई है। जिससे किसानों आंदोलन में शोक की लहर देखने को मिल रही है। दरअसल अमृतसर में कीर्ति किसान यूनियन के प्रधान मास्टर दातार सिंह का हार्ट अटैक से आज निधन हो गया।

उन्हें हार्ट अटैक एक सभा के दौरान आया था। विरसा विहार में स्वतंत्रता सेनानी उजागर सिंह की याद में रखे गए कार्यक्रम को सम्बोधित करते के बाद दातार सिंह ने जैसे ही अपनी वाणी की विराम देने की कोशिश की। उन्हें हार्ट अटैक आ गया।

हार्ट अटैक के बाद उन्हें अस्पताल में ले जाया गया लेकिन उन्हें बचाया नहीं जा सका। डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। उनके निधन की खबर जैसे ही पंजाब से होते सिंघु और गाजीपुर पर बैठे आंदोलनकारियों को हुई।

उनकी आंखें भर आई। दातार सिंह तीन दिन पहले ही दिल्ली धरने से लौटे थे और अमृतसर में एक कार्यक्रम में शामिल होने आए थे। उन्हें मंच पर बुलाकर सम्मानित भी किया जाना था लेकिन उससे पहले ही यह घटना हो गई।


मेरा समय खत्म होता है, इतना कहने के बाद जमीन पर गिर पड़े दातार सिंह
दातार सिंह आज सभा में किसान आंदोलन को लेकर मंच से अपने विचार रख रहे थे। अपनी बात पूरी करने के बाद दातार सिंह ने कहा, अलविदा! मेरा समय खत्म होता है।

इतना कहने के बाद जैसे ही वह कुर्सी पर बैठे उन्हें हार्ट अटैक की शिकायत हुई। जिसके बाद अस्पताल ले जाने के दौरान उनकी मौत हो गई।

दातार सिंह के निधन से किसान नेताओं और उनके चाहने वालों के बीच शोक की लहर दौड़ गई। उनके प्रशंसकों का कहना है कि दातार सिंह की कमी को कभी पूरा नहीं किया जा सकता है। वह हमेशा किसानों का हित चाहते थे। दातार सिंह कृषि कानून वापस लिए जाने को लेकर कई प्रदर्शनों में भी शामिल हुए थे।


मोदी सरकार की जमकर आलोचना की थी
उन्होंने केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा था कि मोदी सरकार कृषि कानून का समाधान तलाशने के बजाए किसान नेताओं को बांटने में जुटी हुई है। उन्होंने कहा था कि सरकार जबतक कृषि कानून वापस नहीं ले लेती है तबतक किसान अपने घर नहीं जाएंगे।


Nia Sharma ने रवि दुबे को बताया 'बेस्ट किसर मैन' तो अब एक्टर ने किया रिएक्ट, कहा...       कल ओटीटी प्लेटफॉर्म पर रिलीज़ होंगी ये वेब सीरीज़ और फ़िल्में       Kiston Song: जाह्नवी कपूर-राजकुमार राव की फिल्म 'रूही' का दूसरा गाना 'किस्तों' रिलीज       Zeenat Aman के इंडस्ट्री में इतने साल पूरे होने पर भावुक हुईं पाकिस्तानी एक्ट्रेस सोमी अली       इस एक्ट्रेस के साथ जब शख्स ने भीड़ में की ऐसी हरकत, एक्ट्रेस भी हुईं हैरान       इन खिलाड़ियों को मिली जगह, इंग्लैंड के खिलाफ T20 सीरीज के लिए टीम इंडिया का ऐलान       जिम को देखकर चौंके भारतीय खिलाड़ी, दुनिया के सबसे बड़े क्रिकेट स्टेडियम के मुरीद हुए क्रिकेटर       पहले उनके खिलाफ खेला, अब उनके साथ खेलने को बेताब हूं : राहुल तेवतिया       T20 सीरीज के लिए जसप्रीत बुमराह और मोहम्मद शमी का चयन क्यों नहीं हुआ       इंग्लैंड के खिलाफ T20 और वनडे सीरीज में कमेंट्री करेगा ये भारतीय विकेटकीपर       कस्तूरबा गांधी: सफलता के पीछे रहा अहम योगदान, बापू का हर कदम पर दिया साथ       जिनके निधन पर आज रो रहा देश का हर किसान, जानिए कौन हैं दातार सिंह       महाराष्ट्र में मचा हाहाकार, 34 जिलों में तत्काल हाई अलर्ट जारी       नारायणसामी ने दिया इस्तीफा: पुडुचेरी में गिरी कांग्रेस सरकार       7 बार चुनकर पहुंचे थे लोकसभा, मुंबई के होटल में मिला इस दिग्गज नेता का शव       लाइलाज नहीं है डिप्रेशन और कम उम्र में भी हो सकती है इसकी समस्या, जानें       बहुत ही आसानी से पा सकते हैं बढ़ते वजन से छुटकारा, बस करने होंगे रूटीन में ये जरूरी बदलाव       शुगर लेवल कंट्रोल करना है तो नाश्ते में शामिल करें ये 5 जादुई चीज़ें       डेंगू में रामबाण इलाज है बकरी का दूध, जानें       गर्मियों में कूल और हेल्दी रहने के लिए खाएं फ्रूट कस्टर्ड, जानें