आंखों की रोशनी बढ़ाने के लिए अपनाएं ये घरेलू आसान तरीके

आंखों की रोशनी बढ़ाने के लिए अपनाएं ये घरेलू आसान तरीके

आंखों की जरिए ही हम अपने आसपास की सभी चीजों को बड़ी आसानी से और साफ तौर पर देख सकते हैं। आंखों के स्वस्थ रहने पर ही हम अपने दिनचर्या के सभी कार्यों को बड़ी आसानी से पूरा कर लेते हैं। वहीं आंखों में जब थोड़ी सी भी खराबी आ जाती है तो हमें चश्मे का सहारा लेना पड़ता है जिसके बाद हमारी आंखों को अक्सर डॉक्टरी देखभाल की जरूरत पड़ती है। हालांकि कुछ खास आदतों के जरिए और कुछ घरेलू नुस्खे अपनाकर हम अपनी आंखों को स्वस्थ बनाए रख सकते हैं। आंखों को स्वस्थ रखने के लिए नीचे कुछ खास फल और घरेलू तरीके बनाए जा रहे हैं जिसे आप नियमित रूप से इस्तेमाल करके आंखों को स्वस्थ रख सकते हैं।

​गुलाब जल
गुलाब जल आंखों के लिए काफी कारगर माना जाता है। वैसे तो यह मूड को फ्रेश करने और त्वचा को निखार देने का भी काम करता है लेकिन कुछ वैज्ञानिक अध्ययन में इस बात की पुष्टि की गई है तो गुलाब जल का सेवन आंखों की रोशनी को बढ़ाने में मदद कर सकता है। आंखों की रोशनी बढ़ाने के लिए डॉक्टर की सलाह लेकर आप गुलाब जल की दो तीन बूंद को हफ्ते में दो से तीन बार आंखों में डाल सकते हैं। यहां आंखों के नीचे मौजूद डार्क सर्कल को साफ करने के लिए भी काफी मददगार साबित होगा।

​सरसों का तेल
नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ हेल्थ के द्वारा कई लोगों पर ट्रायल करके यह देखा गया कि सरसों का तेल इस्तेमाल करने से आंखों की रोशनी को बढ़ाने में काफी मदद मिलती है। ट्रायल करने के दौरान लोगों के पैरों में करीब 10 मिनट तक रोजाना सरसों के तेल की मालिश की गई और उनके देखने की क्षमता में सकारात्मक रूप से सुधार भी देखने को मिला। इसलिए वैज्ञानिक सबूतों के आधार पर आंखों की रोशनी को बढ़ाने के लिए पैरों के तलवे में सरसों के तेल से रोजाना 10 मिनट तक मालिश करें आपको सकारात्मक रूप से इसका फायदा देखने को मिलेगा।

​एक्सर्साइज करें
आंखों की देखने की क्षमता को बढ़ाने के लिए नियमित रूप से व्यायाम करना भी बहुत जरूरी माना जाता है। इस पर डॉक्टरी अध्ययन भी किए गए हैं जिसमें इस बात की पुष्टि होती है कि नियमित रूप से व्यायाम करने वाले और हेल्दी वेट रखने वाले लोगों में आंखों की रोशनी काफी अच्छी होती है। वजन बढ़ने के कारण टाइप टू डायबिटीज से पीड़ित लोगों में भी आंखों की रोशनी कमजोर हो जाती है यही वजह है कि संतुलित वजन आंखों की रोशनी के लिए काफी हद तक जिम्मेदार होता है। इसलिए नियमित रूप से व्यायाम करें और अपनी आंखों को स्वस्थ रखें।

​बादाम
बादाम का सेवन करने से भी आंखों की रोशनी को बढ़ाने में काफी मदद मिलती है। यूनाइटेड स्टेट डिपार्टमेंट ऑफ एग्रीकल्चर के द्वारा किए गए अध्ययन के अनुसार बादाम में विटामिन-ए की भरपूर मात्रा पाई जाती है। आप चाहें तो इसे दूध के साथ ही खाने में इस्तेमाल कर सकते हैं। इसके जरिए आपको दूध और बादाम दोनों में मौजूद विटामिन-ए की मात्रा मिलेगी जो आंखों की रोशनी बढ़ाने के लिए सक्रिय रूप से कार्य करती है। ज्यादातर लोगों के द्वारा आंखों को स्वस्थ रखने के लिए बादाम मिल्क का सेवन रात को सोने से पहले जरूर किया जाता है।

​आंवला का सेवन
आंवला एक ऐसा फल है जिसे आप अलग-अलग रूपों में खा सकते हैं। इसकी चटनी से लेकर इसके अचार और मुरब्बे के साथ- जूस के रूप में भी सेवन किया जाता है। दरअसल इसमें विटामिन-सी की मात्रा पाई जाती है जो एंटीऑक्सीडेंट के रूप में कार्य करता है। एंटी ऑक्सीडेंट रेटिना को स्वस्थ रखने का काम करती है। वहीं, रेटिना का स्वस्थ बने रहना हमारी आंखों की रोशनी को मेंटेन रखने में मददगार साबित होता है।

​इन फूड्स का भी करें सेवन
ऐसे कई खाद्य पदार्थ मौजूद हैं जिसका सेवन करने के कारण हमारे आंखों की रोशनी स्वस्थ बनी रहती है। इनमें प्रमुख रूप से गाजर, ब्रोकली, अखरोट, पालक और केल गिना जाता है। इसलिए इन फूड्स को अपनी डायट में शामिल करके आप अपनी आंखों की रोशनी को बढ़ा सकते हैं।


अंडे खाने के फायदे, जिसे जानकर तुरंत खाना शुरू कर देंगे आप..

अंडे खाने के फायदे, जिसे जानकर तुरंत खाना शुरू कर देंगे आप..

अंडे में कई सारे पोषक तत्व पाए जाते हैं जिसकी वजह से इसे सुपरफूड भी कहा जाता है. डॉक्टर्स भी हर दिन कम से कम एक अंडा खाने की सलाह जरूर देते हैं. स्टडीज में अंडे के 9 फायदों की पुष्टि की गई है. आइए जानते हैं इनके बारे में. 

पोषक तत्व से भरपूर- अंडे में सबसे ज्यादा पोषक तत्व पाया जाता है. एक उबले अंडे में 6 फीसदी विटामिन A, 5 फीसदी, फोलेट, 7 फीसदी विटामिन B5, 9 फीसदी विटामिन B12, 9 फीसदी फास्फोरस और 22 फीसदी सेलेनियम पाया जाता है. इसके अलावा अंडे में विटामिन D, विटामिन E, विटामिन  K, विटामिन B6, कैल्शियम और जिंक पाया जाता है.


 
ब्लड कोलेस्ट्रॉल को नहीं बढ़ाता है- अंडे में खूब सारा कोलेस्ट्रॉल पाया जाता है लेकिन ये ब्लड कोलेस्ट्रॉल को प्रभावित नहीं करता है. ये लोगों पर भी अलग-अलग निर्भर करता है. अंडा खाने वाले 70 फीसदी लोगों में कोलेस्ट्रॉल की शिकायत नहीं होती है जबकि 30 फीसदी लोगों के कोलेस्ट्रॉल में मामूली बढ़ोतरी होती है.

अंडे में होता है कोलीन- कोलीन एक महत्वपूर्ण पोषक तत्व है जो ज्यादातर लोगों को नहीं मिल पाता है. कोलीन शरीर में सेल मेंब्रेन और मस्तिष्क के मोलेक्यूल को बनाने का काम करता है. शरीर में कोलीन की कमी से कई गंभीर समस्याएं होने लगती हैं. एक अंडे में 100 mg से भी ज्यादा कोलीन पाया जाता है.

दिल की बीमारियों खतरा कम- एलडीएल कोलेस्ट्रॉल को आमतौर पर खराब कोलेस्ट्रॉल के रूप में जाना जाता है. शरीर में एलडीएल का स्तर बढ़ने से दिल की बीमारियों का भी खतरा बढ़ जाता है. हालांकि एलडीएल का आकार भी इसके कणों पर निर्भर होता है. कुछ एलडीएल के कण छोटे तो कुछ के बड़े होते हैं. स्टडीज के अनुसार जिन लोगों में एलडीए के बड़े कण पाए जाते हैं उनमें दिल की बीमारियों का खतरा कम होता है. स्टडीज से पता चलता है कि अंडा एलडीएल के छोटे कणों को बड़े में बदल देता है जिससे दिल की बीमारियों का खतरा कम हो जाता है.

आंखों के लिए अच्छा- उम्र के साथ-साथ आखें भी कमजोर हो जाती हैं. ल्यूटिन और ज़ेक्सैंथिन एंटीऑक्सीडेंट आंख के रेटिना में जमा होते हैं जिनसे आंखों की रोशनी बढ़ती है. ल्यूटिन और ज़ेक्सैंथिन मोतियाबिंद के खतरे को भी कम करते हैं. अंडे की जर्दी में ये दोनों एंटीऑक्सीडेंट भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं. अंडे में विटामिन A भी अच्छी मात्रा में पाया जाता है जो आंखों के लिए जरूरी माना जाता है.

गुड कोलेस्ट्रॉल बढ़ाता है- अंडा शरीर में गुड कोलेस्ट्रॉल को बढ़ाता है. गुड कोलेस्ट्रॉल वाले लोगों में दिल की बीमारियों और स्ट्रोक का खतरा कम होता है. स्टडी के अनुसार 6 हफ्ते तक हर दिन दो अंडे खाने से HDL का स्तर 10 फीसदी तक बढ़ जाता है.

अमीनो एसिड और प्रोटीन की सही मात्रा- शरीर के लिए प्रोटीन बहुत जरूरी होता है. प्रोटीन शरीर में सभी प्रकार के ऊतकों और अणुओं को बनाने का काम करते हैं. अंडा प्रोटीन का सबसे अच्छा स्त्रोत होता है. एक बड़े अंडे में 6 ग्राम प्रोटीन पाया जाता है. अंडे में अमीनो एसिड भी सही अनुपात में पाया जाता है. इससे आपका शरीर प्रोटीन का अच्छे से पूरा इस्तेमाल करता है.

स्ट्रोक का खतरा कम करता है- ऐसा माना जाता है कि अंडे में पाया जाने वाला कोलेस्ट्रॉल दिल के लिए अच्छा नहीं होता है. 17 स्टडीज की समीक्षा में ये बात निकल कर सामने आई है कि अंडे और दिल की बीमारी के बीच कोई संबंध नहीं होता है. हालांकि कुछ स्टडीज का दावा है कि अंडा खाने से डायबिटीज के मरीजों में दिल की बीमारियों का खतरा बढ़ जाता है लेकिन लो कार्ब डाइट में अंडा खाने से दिल की बीमारियों का खतरा कम होता है.

वजन कम करने में मददगार- अगर आप वजन कम करने के लिए कम कैलोरी खाना चाहते हैं तो अंडे से अच्छा कोई विकल्प नहीं हो सकता. अंडा खाने से जल्दी भूख नहीं लगती है. ज्यादा वजन वाली 30 महिलाओं पर की गई स्टडी से पता चला कि ब्रेड की बजाय नाश्ते में अंडा खानी वाली महिलाओं को भूख कम लगी जिसकी वजह से उन्होंने अगले 36 घंटे में कम कैलोरी वाला खाना खाया और उनका वजन तेजी से कम हुआ.


इस तट पर सोने के मोती ढूंढने के लिए जुट रही हजारों की भीड़, लोगों के आये अच्छे दिन       कृषि कानून से किसानों को उनके अधिकार मिले : PM मोदी       Bank Holidays December 2020: दिसंबर में इतने दिन बैंक रहेंगे बंद       3-4 हफ्तों में पूरी दिल्ली को लग सकता है Corona का टीका       बेहद खतरनाक होता हैं हार्ट अटैक का दर्द       हैदराबाद: ओवैसी के गढ़ में योगी आदित्याथ का रोड शो       अंडे खाने के फायदे, जिसे जानकर तुरंत खाना शुरू कर देंगे आप..       कोरोना के साथ अन्य मौसमी बीमारियों के संक्रमण को लेकर जारी हुए दिशानिर्देशों को जानें       छोटे कर्जदारों के लिए बड़ा झटका       बच्चों के लिए क्यों जरूरी है मां का दूध, जरूर जानें       जानिए, सेहत के लिए कितने फायदेमंद है ये पौधे       गठिया का अचूक इलाज, जानें क्यों आपके लिए जरूर हैं ये फूड       अखरोट खाने के यह फायदे जानकर हो जाएंगे हैरान       हर वक्त थकान महसूस करते है, तो आयरन से भरपूर फूड को करें अपनी डाइट में शामिल       आंवलें का जूस पीने से हो सकते हैं कई फायदे       विटामिन C से भरपूर हैं ये सब्जियां, सेहत के लिए भी फायदेमंद       आखिर क्यों हाथ साफ करने के लिए सैनिटाइजर से बेहतर है साबुन       मोदी सरकार ने जवानों को ही किसानों के विरूद्ध खड़ा कर दिया: राहुल गांधी       प्रदर्शन कर रहे किसानों से गृह मंत्री अमित शाह ने की ये अपील       पहली बार बिहार की सेंट्रल कारागार में ATM की सुविधा