न करें पैंट की जेब में मोबाइल रखने की गलती, वरना पड़ सकता हैं भारी

न करें पैंट की जेब में मोबाइल रखने की गलती, वरना पड़ सकता हैं भारी

यूं तो मोबाइल के नुकसान को लेकर कई सर्वे आ चुके हैं और ये भी साबित भी हो चुका है कि मोबाइल और इस जैसी डिवाइस का इस्तेमाल बेडरूम में रिश्ते में दरार ला सकता है। ले‌किन एक नई स्टडी में कई हैरान करने वाली चीजें सामने आई है। स्टडी के मुताबिक, मोबाइल ना सिर्फ स्वास्‍थ्य के लिए खतरनाक है बल्कि पुरुषों को भी नपुंसक बना सकता है। फर्टिलिटी एक्सपर्ट्स ने चेताया है कि जो शख्स एक दिन में कम से कम एक घंटा भी मोबाइल फोन इस्तेमाल कर रहा है उसका स्पर्म नष्ट हो रहा है और स्तर में भी गिरावट आ रही है।

वैज्ञानिकों ने चेताया है कि दिनभर में एक घंटा भी मोबाइल पर बात करने से पुरुषों की यौन क्षमता घटती है। पैंट की जेब में मोबाइल रखना भी इतना ही घातक है। मोबाइल चार्ज करते समय बात करना तो कई गुना नुकसानदायक है। इसका सीधा असर पुरुषों के स्पर्म पर पड़ता है। सलाह दी गई है कि रात को सोते समय भी मोबाइल दूर रखें। 106 युवाओं पर अध्ययन करने के बाद इजराइल के वैज्ञानिकों की यह रिपोर्ट प्रीप्रॉडक्टिव बायोमेडिसिन मैग्जीन में प्रकाशित हुई है।

रिपोर्ट के मुताबिक, पश्चिम देशों में मोबाइल के कारण पुरुषों के स्पर्म की गुणवत्ता तेजी से घट रही है। 40 फीसदी मामलों में इसी कारण से पीड़ित पिता नहीं बना रहा है। ब्रिटिश विशेषज्ञों का मानना है कि मोबाइल से निकलने वाली हिट और इलेक्ट्रोमैग्नेटिक तरंगें स्पर्म को ‘कूक’ करके खत्म कर देती हैं। अध्ययनकर्ताओं ने सलाह दी है कि मोबाइल जेब में नहीं, बल्कि अंगों से 20 इंच दूर रखा जाना चाहिए।

हैफा (इजराइल) की टेक्निओन यूनिवर्सिटी की प्रोफेसर मार्था डर्नफील्ड का कहना है कि स्पर्म के स्तर तेजी से गिर रहा है जिसके कारण आने वाले वक्त में गर्भधारण बहुत मुश्किल हो जाएगा। बकौल मार्था, यदि आप परिवार बढ़ाने का प्रयास कर रहे हैं और एक साल में कामयाबी नहीं मिली है तो यह निश्चितरूप से मोबाइल का कुप्रभाव है।

भारत में यूजर्स औसतन 169 मिनट हर दिन स्मार्टफोन पर बिताते हैं इसमें से 02 घंटे सोशल मीडिया और चैटएप्स पर खर्च होते हैं। वहीं अमेरिका में एक दिन में सोशल मीडिया पर बिताया जाना वाला औसत वक्त 4.7 घंटे है।


हमेशा पतले और फिट रहना चाहते हैं तो ट्राई करें ये 5 ट्रिक्स

हमेशा पतले और फिट रहना चाहते हैं तो ट्राई करें ये 5 ट्रिक्स

वज़न घटाने की कहानियों का अंत अक्सर खुशी से भरा नहीं होता बल्कि ये सफर कई तरह के उतार-चढ़ाव से भरा होता है। संतुलित और सही वज़न को बनाए रखना भी काफी मुश्किल है। जब हम वज़न घटाने के लिए प्लान तैयार करते हैं और वह काम करने लगता है, तो आप रिलेक्स हो जाते हैं, जिससे वज़न दोबारा बढ़ जाता है।

वज़न कम करने में इतनी मशक्कत शामिल है, जिससे लगता है कि हमेशा फिट रहना कितना मुश्किल काम है। हालांकि, देखा जाए तो अच्छा वज़न बनाए रखना कोई मुश्किल काम नहीं है। आज हम बता रहे हैं 5 ऐसी ट्रिक्स जिनकी मदद से आप लंबे समय तक फिट और पतले रह सकते हैं।

प्लेट नियम का पालन करें

कई फिटनेस एक्सपर्ट्स का मानना है कि खाते वक्त कैलोरीज़ का ख़्याल रखना वज़न घटाने में फायदेमंद हो सकता है। हालांकि, कुछ का मानना है कि वज़न कम करने के लिए प्लेट के नियम का पालन फायदा पहुंचाता है। अपनी प्लेट को ब्रोकली और गाजर जैसी नॉन-स्टार्च सब्ज़ियों से आधा भर लेने से आपका फाइबर का सेवन पूरा हो जाएगा। इसके अलावा अपनी प्लेट का एक चौथाई हिस्सा होल-ग्रेन्स, बीन्स और आलू जैसे कार्बज़ से भरें और बाकी बचे हिस्से में प्रोटीन।

डाइटिंग न करें

कीटो से लेकर इंटरमिटेंट डाइट तक, लोग वज़न कम के लिए कौन सा तरीका नहीं अपनाते। इन तरीकों से आपका वज़न जल्दी कम तो ज़रूर हो जाएगा लेकिन जल्द ही दोबारा बढ़ भी जाएगा। इसलिए सही तरीके से वज़न कम करने के लिए संतुलित आहार लें, और शरीर में किसी चीज़ की कमी न होने दें।

खाना तब खाएं जब भूख लगे

जब किसी को भूख लगती है, तो स्वस्थ और भरपेट भोजन अधिक आकर्षित करता है। हालांकि, जब कोई बेचैन, तनाव या बोर हो रहा होता है, तो उसे पिज़्ज़ा, बर्गर और मीठा खाने का ज़्यादा दिल चाहने लगता है। जिसकी वजह से आपके शरीर को किसी तरह का फायदा नहीं पहुंचता लेकिन कैलोरी ज़रूर बढ़ जाती है।


नट्स खूब खाएं

खाने के बीच में जब भी भूख लगे तो बादाम, मूंगफली, अखरोट और काजू खाएं। इनमें हाई फैट्स होते हैं, लेकिन फिर भी इससे वज़न नहीं बढ़ता। मेवों के सेवन से न सिर्फ वज़न कम होता है बल्कि दिल के स्वास्थ्य और त्वचा को भी फायदा पहुंचता है।

छोटे मील्स लें

शरीर में फैट्स जमा होने के प्रमुख कारणों में से एक है एक साथ अस्वस्थ प्रोसेस्ड फूड खा लेना। ऐसा तब होता है जब आपको भयानक भूख लगती है। एक्सपर्ट्स का मानना है कि हर थोड़ी देर में छोटे-छोटे मील्स लेने से आपका पेट भरा रहेगा और आप जंक फूड खाने से बचेंगे, जिससे वज़न कम होने में भी मदद मिलेगी।