एक्सपर्ट से जानें, कार्ब्स को उपवास में लेना है कितना सही और किस रेसिपी में मिलेगी इसकी भरपूर मात्रा

एक्सपर्ट से जानें, कार्ब्स को उपवास में लेना है कितना सही और किस रेसिपी में मिलेगी इसकी भरपूर मात्रा

कार्बोहाइड्रेट हमारे शरीर में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं क्योंकि यह एक महत्वपूर्ण पोषक तत्व स्त्रोत है, जो न केवल मांसपेशियों और मस्तिष्क को ऊर्जा प्रदान करता है, बल्कि आहार में सही प्रकार के कार्ब्स का उपयोग करने से प्रभावी रूप से वजन कम करने और फिटनेस लक्ष्यों में तेजी़ लाने में मदद मिल सकती है। दो प्रकार के कार्ब्स होते हैं- स्लो और फास्ट कार्ब्स। यह ग्लाइसेमिक इंडेक्स पर निर्भर करता है (जिस दर से ग्लूकोज़ स्त्राव की तुलना में कार्ब्स को पचाता है)। फास्ट कार्ब्स में उच्च जीआई होता है और बहुत ज्यादा गति से ऊर्जा जारी करता है। इससे आप अक्सर भूख महसूस करते हैं। इनमें ब्रेड, शक्कर, स्टार्च वाली सब्जियां, फलों के रस आदि जैसे प्रोसेस्ड खाद्य पदार्थ शामिल हैं। इसकी तुलना में स्लो कार्ब्स में जीआई कम होता है और शरीर मे धीरे-धीरे ऊर्जा जारी करता है, जो एनर्जेटिक बनाए रखता है क्योंकि इसमे फाइबर की मात्रा ज्यादा होती है।

कुछ इस तरह शामिल करें कार्ब्स

जाहिर है आप उपवास कर रहे हैं तो सामान्य दिनों की अपेक्षा कम ही भोजन करेंगे। ऐसे में आपको ऑड टाइमिंग में भूख लगना वाज़िब है। अगर आप स्लो कार्ब्स लेते हैं तो यह आपको दिनभर स्ट्रेंथ देगा क्योंकि यह पचने में सहायक है। आलू और साबुदाना के साथ अन्य रेशेदार सब्जियां जैसे पालक, गोभी, टमाटर, शिमला मिर्च, लौकी को शामिल करें। बकव्हीट यानि कुट्टू में कार्ब्स और प्रोटीन का शानदार कॉम्बिनेशन है। इसमें बी-12, फॉस्फोरस, मैग्नीशियम, आयरन, जिंक, कॉपर और मैग्नीज़ है। कुट्टू की पूरियां बनाने के बजाय चपाती बनाकर खाएं, ज्यादा फायदा मिलेगा। व्रत वाले चावल पचाने में बेहद आसान होते हैं। यह ऊर्जा प्रदान करते हैं। आलू के चिप्स के बजाय भूने हुए मखाने/बेक्ड चिप्स, भुनी मूंगफली का सेवन किया जा सकता है।

कुट्टू का ढोकला

कार्ब्स के लिए इससे बेहतर और कुछ नहीं हो सकता, तो ट्राई कर देखें।

सामग्री

1 कप कुट्टू का आटा, 1/2 कप खट्टा दही, 1/4 टीस्पून अदरक का पेस्ट, स्वादानुसार सेंधा नमक, 1 टेबलस्पून ताजा धनिया, 1 बारीक कटी हरी मिर्च

विधि

एक बोल में कुट्टू का आटा लें। इसमें दही, सेंधा नमक और अदरक का पेस्ट मिलाएं। आधे कप पानी के साथ मिलाएं। इसे ढककर कम से कम 4 से 5 घंटे के लिए रख दें। अब इसमें हरी मिर्च डालकर मिलाएं। घोल को स्टीम करने के लिए ग्रीस लगी थाली पर डालें। ऊपर से ताजा कटा हुआ धनिया छिड़कें। स्टीम करें।

करीब 10-12 मिनट के लिए स्टीम दें या जब तक कि ढोकला पक नहीं जाता। टुकड़ों में काटें। हरी चटनी के साथ गर्मागर्म परोसें।


नींद नहीं आती है रातों में? अपनाएं ये उपाय

नींद नहीं आती है रातों में? अपनाएं ये उपाय

अच्छी नींद से बेहतर शरीर के लिए कुछ भी नहीं है दिन भर की थकान और बॉडी के सेल्स में हुए डैमेज की नींद भरपाई करती है लेकिन कई लोगों के साथ नींद न आने की गंभीर समस्या होती है थकान के बावजूद बिस्तर पर जाते ही नींद का भाग जाना आपकी स्वास्थ्य के लिए बिल्कुल अच्छा नहीं है हम आपको बेहतर नींद के लिए कुछ टिप्स दे रहे हैं जिन्हें अपनाने पर आप रात को शाँति से सो पाएंगे

दरअसल, नींद नहीं आने के कई कारण है जैसे कैफीन, निकोटीन का अधिक सेवन करना, किसी भी तरह की दवा का सेवन करना, लगातार कार्य करना, कार्यालय और घर के बीच तालमेल नहीं बैठना इसके साथ ही तनाव आपकी नींद का सबसे बड़ा शत्रु है निगेटिव सोच, बेवजह का डर और चिंता आपके श्वसन तंत्र को उत्तेजित करती है जिसकी वजह से आपकी नींद हराम हो जाती है

अगर आप भी आधी रात तक जागते हैं और दिन तक सोते हैं तो हम आपको अच्छी नींद लाने के कुछ प्राकृतिक तरीकों के बारे में बताते है, जिनकी सहायता से आपको शीघ्र नींद भी आएगी और आप एनर्जेटिक भी महसूस करेंगे इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस जैसे टीवी और मोबाइल की ब्लू लाइट से आपके दिमाग को दिन होने की आसार लगती है, इससे मेलाटोनिन हॉर्मोन अपना ठीक तरह से कार्य नहीं कर पाता

मेलाटोनिन हॉर्मोन अच्छी नींद के लिए उत्तरदायी होता है सोने से दो घंटे पहले इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस जैसे मोबाइल का इस्तेमाल न करें, यदि आप इनका इस्तेमाल कर रहे हैं तो चश्मा लगाकर करें इससे लाइट का सीधा प्रभाव आपकी आंखों पर नहीं पड़ेगा

दिन के दौरान सूर्य के प्रकाश के सम्पर्क में आने से आपकी सर्कैडियन रिदम को रेगुलेट किया जा सकता है सर्कैडियन प्रणाली जिसे जैविक घड़ी भी बोला जाता है, ये प्राकृतिक दैनिक चक्र है जो आराम और गतिविधि के पैटर्न को नियंत्रित करता है सर्केडियन रिदम लोगों को नियमित नींद और जागने के शेड्यूल को बनाए रखने में सहायता करता है आपको प्रतिदिन सूरज की रौशनी जरूर लेनी चाहिए


Atom 1.0 बाइक से केवल 7 रुपये में करें 100 किलोमीटर का सफर       गर्म पानी पीने से हो सकता है स्वास्थ्य को ये नुकसान!       नींद नहीं आती है रातों में? अपनाएं ये उपाय       उरी बेस कैंप पहुंचे Vicky Kaushal, इंडियन आर्मी संग फोटोज़ शेयर कर बोले...       ये प्यारी सी 'डिमांड' भी कर दी, Sonu Sood ने बिहार की बहन के लिए दिखाई दरियादिली       इस मंदिर में चढ़ाया जाता है इंसान के निजी अंग का डमी मॉडल, वजह जानकर हो जाएंगे हैरान       सेंसेक्स की शीर्ष 10 में से आठ कंपनियों का बाजार कैपिटलाइजेशन 1.94 लाख करोड़ रुपये बढ़ा       करोड़ों में लगी Twitter के CEO के पहले ट्वीट की बोली...       इस दिन लगेगा खरमास, जानें इस दौरान क्या करें       बस इन नियमों का करना होगा पालन, सूर्य देव को अर्घ्य देने से बन जाते हैं कैसे भी बिगड़े काम       RSWS 2021: इंग्लैंड ने बांग्लादेश लीजेंड्स को हराया, केविन पीटरसन की धुआंधार बैटिंग       खिताबी सिक्सर लगाने उतरेगी रोहित की मुंबई, RCB से खेलेगी पहला मैच       44 लेयर में भरी जाएगी राम मंदिर की 15 मीटर गहरी नींव, पारंपरिक शैली में होगा निर्माण       दुनियाभर में फैली दहशत, कोरोना महामारी पर WHO ने दी चेतावनी       आर्मी तक पहुंची वैक्सीन, रिटायर्ड सैन्य कर्मियों का टीकाकरण       गौतम बुद्ध के ये अनमोल वचन बदल देंगे आपकी जिंदगी       कब से शुरू हो रहा है खरमास, नहीं कर पाएंगे कोई शुभ कार्य       मार्च में है महाशिवरात्रि, होली, विजया एकादशी जैसे महत्वपूर्ण व्रत एवं त्योहार       समस्याओं से आप भी हैं परेशान, तो पढ़ें भगवान ​बुद्ध से जुड़ी यह प्रेरक कथा       महाशिवरात्रि के दिन करें ये उपाय, शिव जी प्रसन्न होकर कष्टों से देते हैं मुक्ति