बिग बॉस 13 : रश्मि देसाई के घरवालों ने मनाया उनका जन्मदिन

बिग बॉस 13 : रश्मि देसाई के घरवालों ने मनाया उनका जन्मदिन

आज बिग बॉस 13 की कंटेस्टेंट व टीवी की प्रसिद्ध अभिनेत्री रश्मि देसाई का जन्मदिन है। रश्मि बिग बॉस में बहुत ज्यादा अच्छा प्रदर्शन कर रही हैं। घर के अंदर रहते हुए व्यक्तिगत जीवन के बारे में इतनी बातें होने के बावजूद वे बहुत हौसला से डटी हुई हैं व उन्होंने यह साबित कर दिया है कि वे बहुत मजबूत महिला है।

बिग बॉस के घर में अरहान के साथ उनके संबंध के अतिरिक्त परिवार खासतौर पर मां के अनबन की खबरें बहुत ज्यादा उछलीं। खबरों के अनुसार रश्मि की उनकी मां से नहीं जमती, इसलिए फैमिली वीक या अन्य किसी भी मौका पर मौका मिलने के बावजूद उनकी मां उनसे मिलने कभी नहीं आईं। लेकिन आज उनके जन्मदिन के मौका पर रश्मि की मां रसीला देसाई ने सारी खबरों को विराम लगाते हुए सारे धूमधाम के साथ अपनी बेटी का जन्मदिन मनाया व उस उसके बिग बॉस जीतने की कामना की। रश्मि की मां रसीला देसाई व भाई गौरव ने मिलकर रश्मि के लिए केक काटा। रसीला व गौरव ने एक बर्थडे पार्टी सेलिब्रेट की। जहां रश्मि के कुछ दोस्त नजर आ रहे हैं। सबने मिलकर रश्मि के लिए बर्थडे सॉन्ग भी गाया।

इस बारे में एक प्रसिद्ध अखबार से बात करते हुए रश्मि की मां ने बोला कि वे हमेशा ही रश्मि का जन्मदिन बहुत धूमधाम से मनाती हैं। उन्होंने बोला कि मैं उसके लिए डॉल शेप का केक बनाती हूं। मैं उसे अपनी गुड़िया मानती हूं, इसलिए उसके लिए हमेशा अपने हाथों से केक बनाती हूं, लेकिन इस वर्ष में केक नहीं बना पाई, क्योंकि इन दिनों मेरी तबियत अच्छा नहीं है। वे जब बिग बॉस के घर से बाहर निकलेगी, तो हम बड़ी पार्टी रखेंगे व उसका जन्मदिन मनाएंगे।
रश्मि की मां रसीला देसाई को अपनी बेटी के बिग बॉस के सफर में बहुत गर्व है व उन्हें उम्मीद है कि वे बिग बॉस की ट्रॉफी लेकर आएगी। रसीला ने बोला कि मुझे रश्मि के अब तक सफर पर बहुत गर्व है, इतनी सारी मुश्किलों का सामना करने के बावजूद को फाइनल तक पहुंचने में सफल हुई है। उसने जिस तरह गेम को मैनेज किया है व जिस तरह पेश आई हैं, मैं उसकी सराहना करती हूं। मुझे लगता कि अगर उसकी स्थान कोई व लड़की होती, तो वो हौसला पराजय जाती। लेकिन रश्मि ने खुद को बहुत अच्छी तरह संभाला। मैं फैमिली वीक के दौरान उससे मिलने घर के अंदर नहीं जा सकी, क्योंकि मेरी तबियत अच्छा नहीं थी, लेकिन मैं उसके भतीजी व भतीजे को भेजा था, क्योंकि वे उसके बहुत करीब हैं। मुझे उम्मीद है कि वो ट्राफी लेकर आएगी।